एम्स में नियुक्ति दिलाने के नाम पर 25 लाख ठगने वाला गिरफ्तार।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/ऋषिकेश: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में नर्सिंग आफिसर के पद पर नियुक्ति दिलाने का झांसा देकर 25 लाख रुपए की ठगी करने वाले एक आरोपित को पुलिस ने मुरादाबाद उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है। आरोपित करीब डेढ़ वर्ष से फरार चल रहा था।
कोतवाली प्रभारी निरीक्षक रवि कुमार सैनी ने बताया कि इस मामले में 29 अक्टूबर 2020 को आम बाग ऋषिकेश निवासी मिलन सिंह चौहान पुत्र दर्शन सिंह चौहान ने ऋषिकेश कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। जिसमें उन्होंने बताया कि मोहम्मद यूसुफ पुत्र शमीम अहमद निवासी मकान नंबर 181 बगलान मुरादाबाद उत्तर प्रदेश ने उनकी पत्नी सोनल सहित उनके जान पहचान के दो अन्य संध्या तथा कविता मरिया को एम्स ऋषिकेश में नर्सिंग ऑफिसर के पद पर नियुक्ति दिलाने की बात कही थी। जिसकी एवज में उन्होंने 25 लाख रुपए मोहम्मद यूसुफ के बैंक खातों में जमा कराए। आरोप है कि इसके बाद मोहम्मद यूसुफ ने ना तो पैसे लौटाए और ना ही उनकी पत्नी व दो अन्य महिलाओं की एम्स में नर्सिंग ऑफिसर के पद पर नौकरी लगाई। इस मामले में पुलिस जांच पड़ताल में जुटी हुई थी।
प्रभारी निरीक्षक रवि कुमार सैनी ने बताया कि मुखबिर तंत्र तथा सर्विलांस के जरिए पुलिस ने शनिवार को डेढ़ वर्ष से फरार चल रहे आरोपित मोहम्मद यूसुफ को मुरादाबाद उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित को न्यायालय में पेश किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि पुलिस आरोपित मोहम्मद युसूफ के अपराधिक इतिहास का भी पता कर रही है। पुलिस टीम में एम्स चौकी प्रभारी शिवराम, एसओजी कान्स्टेबल नवनीत नेगी व संदीप छाबड़ी आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.