70 सीटों के लिए 632 प्रत्याशी ठोकेंगे ताल।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

सँवादसूत्र देहरादून : प्रदेश में चुनावी सरगर्मियां चरम पर हैं,,इसी क्रम में अब विधानसभा चुनाव की नामांकन प्रक्रिया में नाम वापसी के बाद सभी सीटों की चुनावी तस्वीर साफ हो गई है। प्रदेश के सभी 70 विधानसभा सीटों पर नाम वापसी के बाद अब 632 प्रत्याशी मैदान में रह गए हैं।

शुरुआत में प्रदेश में विधानसभा की 70 सीटों के लिए 750 प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल किए थे परंतु नामांकन पत्रों की जांच के बाद 23 प्रत्याशियों का नामांकन खारिज किए गए। बाद में 727 प्रत्याशी शेष रहे तत्पश्चात आज नाम वापसी की अंतिम तिथि थी जिसमें 95 अभ्यर्थियों ने नामांकन वापस लिए तो अब 632 प्रत्याशी ही मैदान में रह गए हैं।

और पढ़ें  उत्तराखंड में कंट्रोल होता दिख रहा कोरोना

जो तस्वीर अब तक की है उसमें 391 प्रत्याशियों ने गढ़वाल मंडल के सात जिलों की 41 सीटों पर दावा किया हैं। कुमाऊं मंडल की 29 सीटों पर 241 प्रत्याशी मैदान में हैं। इन सभी 632 प्रत्याशियों का भविष्य अब 14 फरवरी के मतदान के बाद तय होगा।
जिलेवार प्रत्याशियों की गणना करें तो देहरादून जिले की 10 विधानसभा सीटों पर 117 प्रत्याशी जिसमें सबसे अधिक 19 प्रत्याशी देहरादून की ही धर्मपुर विधानसभा सीट पर हैं। हरिद्वार जिले की 11 विधानसभा सीटों पर 110 प्रत्याशी, उत्तरकाशी जिले की तीन सीटों पर 23 प्रत्याशी व चमोली जिले की तीन विधानसभा सीटों पर 31 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। रुदप्रयाग जिले की दो विधानसभा सीटों पर 25, टिहरी जिले की छह विधानसभा सीटों पर 38, पौड़ी जिले की छह विधानसभा सीटों पर 47 प्रत्याशी और पिथौरागढ़ जिले की चार विधानसभा सीटों पर 28 प्रत्याशी किस्मत आजमा रहे हैं। बागेश्वर जिले की दो विधानसभा सीटों पर 14 प्रत्याशी, अल्मोड़ा जिले की छह विधानसभा सीटों पर 50 प्रत्याशी, चम्पावत जिले की दो विधानसभा सीटों पर 14 प्रत्याशी, नैनीताल जिले की छह विधानसभा सीटों पर 63 प्रत्याशी और ऊधमसिंह नगर जिले की नौ विधानसभा सीटों पर 72 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं।

और पढ़ें  आखिरकार हरक से माफ़ीनामा लिखाकर ही माने हरदा।