हंगामेदार रही रुड़की नगर निगम की बोर्ड बैठक।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून /रुड़की: नगर निगम रुड़की की बोर्ड हंगामेदार ही रही। हालांकि इस बोर्ड बैठक में पार्षदों और महापौर के बीच इस बार नहीं हुई। बोर्ड बैठक में कुल 7 प्रस्ताव रखे गए थे जिसमें बजट सबसे महत्वपूर्ण था। बोर्ड ने केवल 2 प्रस्ताव को ही मंजूरी दी, जबकि बजट का प्रस्ताव स्थगित कर दिया गया। नगर आयुक्त के आने पर ही बजट के प्रस्ताव पर चर्चा के बाद उसे पास करने की बात कही गई।

और पढ़ें  सड़क दुर्घटना में किशोरी की मौत मामले में कोतवाली में हंगामा।

नगर निगम के बोर्ड बैठक में पार्षद विवेक चौधरी ने कहा कि बोर्ड बैठक में बजट के प्रस्ताव को स्थगित कर दिया गया था। इसके बाद भी निगम की ओर से करोड़ों रुपए के कार्य कराए गए, उनके भुगतान भी किए गए जब बोर्ड में बजट पास ही नहीं हुआ था तो विकास कार्य कैसे कराए गए और उनका बजट किस प्रकार से पास हुआ है। पार्षदों ने कहा कि नगर आयुक्त इसका जवाब देंगे उनके आने पर ही बजट प्रस्ताव पर चर्चा हो सकेगी। पार्षद ने कहा कि इस मामले में यदि जरूरत पड़ी तो वह कोर्ट भी जाएंगे। जिसके चलते इस प्रस्ताव को आगामी 10 दिन के लिए स्थगित कर दिया गया। 10 दिन बाद फिर से बोर्ड बैठक बुलाई जाएगी। महापौर के 25 लाख रुपए मांगे जाने वाला मामला भी उठा। हालांकि इस मामले में महापौर ने कहा कि एसआईटी की जांच होनी चाहिए। अन्य मामलों की भी एसआईटी जांच कराए जाने की मांग उठाई गई। बैठक में कलियर विधायक फुरकान अहमद, एसपी गुप्ता सहायक नगर आयुक्त संजय कुमार, पार्षद राकेश गर्ग, पार्षद विवेक चौधरी, पार्षद नितिन त्यागी, पार्षद आशु आदि सहित अनेक पार्षद मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.