ग्राम स्वराज अभियान के अंतर्गत पंचायत प्रतिनिधियों का दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून: पंचायतीराज विभाग द्वारा आयोजित पंचायत प्रतिनिधियों का दो दिवसीय क्षमता विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम चकराता विकासखंड की न्याय पंचायत बृनाड बास्तिल में दिनांक 21 जुलाई 2021 को शुभारंभ हुआ । पंचायती राज विभाग उत्तराखंड द्वारा उत्तराखंड के 95 विकासखंड के क्षेत्र पंचायत सदस्यों , ग्राम प्रधानों एवं ग्राम पंचायत के वार्ड सदस्यों का क्षमता विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम चल रहा है। जिसमें पंचायत प्रतिनिधि बढ चढकर प्रतिभाग कर रहे हैं। चकराता विकास खंड के न्याय पंचायत बृनाड बास्तिल में पंचायत प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए मुख्य प्रशिक्षक डा सुभाष चन्द्र पुरोहित ने कहा कि आज भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित सभी विकास योजनाओं का उद्देश्य सतत विकास लक्ष्य 2030 के 17 लक्ष्यों पर पर केंद्रित है। जिसमे प्रमुखता से गरीबी उन्मूलन, भुखमरी दूर करना, स्वच्छ पेयजलापूर्ति, रोजगार सृजन, स्वाथ्य कल्याणकारी , सबको शिक्षा के समान अवसर उपलब्ध करवाना,लैंगिक समानता हासिल करना, जलवायु परिवर्तन एवं उसके प्रभावों से निपटने के लिए तत्कालिक कार्यवाही करना शामिल है। पंचायतों को स्थानीय स्तर पर योजना निर्माण करते समय यह ध्यान रखना जरूरी है कि हम उपरोक्त लक्ष्यों को हासिल कर सकें। प्रशिक्षक बी एस बिष्ट ने पंचायतों में महिला प्रतिनिधियों के बराबर भागीदारी पर प्रसन्नता जताते हुए कहा कि यह महिलाओं के लिए स्वर्णिम अवसर है पंचायतों में महिलाओं को उत्तराखंड राज्य में 50% सीटों पर निर्विचित होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। निश्चय ही आज महिलाओं की बराबर की भागीदारी से गांवों के सामाजिक ढांचे में आमूलचूल परिवर्तन आया है, महिलाओं की निर्णय एवं नेतृत्व क्षमता का विकास हुआ है। प्रशिक्षक ए पी सेमवाल ने जी पी डी पी पर विचार रखते हुए कहा कि गांव स्तर पर जब भी किसी योजना का प्रस्ताव बनता है तो सभी वार्ड सदस्यों को विश्वास में लेकर एवं सभी सदस्यों की सहमति पर योजनाओं का नियोजन करना चाहिए । प्रशिक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने ई पंचायत के पहलुओं पर विस्तार से अपने विचार रखे एवं वर्तमान में इसके महत्व पर प्रकाश डाला। ग्राम विकास अधिकारी अखिलेश ने प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभाग न्याय पंचायत के पंचायत सदस्यों को बताया कि वार्ड सदस्य गांव के विकास में एक महत्वपूर्ण स्तम्भ है आप अपने गांव को कैसा देखना चाहता है यह आपकी सक्रियता पर निर्भर करता है। इस अवसर पर ग्राम प्रधान अटाल जगदीश वर्मा, ग्राम प्रधान झिटाड श्याम सिंह, अशोक , रामलाल, प्रीती राणा , राकेश गौड़ , सुनीता सहित कुल 57 प्रतिनिधियों ने प्रतिभाग किया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *