रेखीय विभागों के कार्मिकों का दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून: विकास खण्ड ऊखीमठ की न्याय पंचायत गुप्तकाशी के पंचायत प्रतिनिधियों एवं रेखीय विभागों के कार्मिकों के दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम रा०ई०का०गुप्तकाशी में शुभारंभ हुआ।प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ ब्लाक प्रमुख श्वेता पांडेय एवं जिला पंचायत सदस्य श्री गणेश तिवारी जी ने संयुक्त रूप से किया। प्रमुख श्वेता पांडेय ने उपस्थित प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि पंचायत प्रतिनिधि होने के नाते समाज में हमारी जिम्मेदारी और भी बढ़ जाती है इसलिए हमें अपने विकास कार्यों को ईमानदारी एवं निष्ठा के साथ करना चाहिए। जिला पंचायत सदस्य श्री गणेश तिवारी ने पंचायत सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि हर सदस्य की जिम्मेदारी बनती है कि गांव के सामाजिक विकास एवं बुनियादी विकास में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें, आज सरकार की बहुत सारी कल्याणकारी योजनाएं संचालित हो रही है उनका मकसद तभी साकार होगा जब यह योजनाएं जरूरत मंद तक पहुंचे।

डॉ० किरण पुरोहित जयदीप ने सतत विकास लक्ष्य की 09 थीम पर विस्तार पूर्वक चर्चा की। बाल हितैषी गाँव एवं महिला हितैषी गाँव थीम पर पंचायत में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए ब्यापक जागरूकता पर बल दिया।बाल हितैषी गाँव का सपना साकार करने हेतु ग्रामीण स्तर पर स्वास्थ्य कर्मियों, ए. एन. एम. ,आशा स्वास्थ्य कर्मियों की भूमिका महत्वपूर्ण है।
मुख्य प्रशिक्षक डॉ० सुभाष चन्द्र पुरोहित ने सतत विकास लक्ष्य की थीम आत्मनिर्भर एवं बुनियादी ढाँचा युक्त गाँव पर विस्तार से विचार रखते हुए कहा कि विकास कार्य गुणवत्ता एवं उपयोगिता सार्थक सिद्ध हो इसके लिए हर पंचायत प्रतिनिधि को ईमानदारी और जिम्मेदारी के साथ आगे आना चाहिए।
सतत विकास लक्ष्य 2030 हासिल करने के लिए आवश्यक है कि हम प्राथमिकता से शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार जैसे महत्वपूर्ण बिंदुओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए अपनी पंचायतों की योजनाओं को निर्मित करें। इस अवसर पर नाला ग्राम प्रधान कलावती देवी, क्षेत्र पंचायत सदस्य सतेश्वरी देवी ग्राम सभा बड़ासू,खुमेरा, त्यूडी, भेत सेम,नाला, भैंसारी, रुद्रपुर, देवर एवं गुप्तकाशी के पंचायत सदस्यों ने प्रतिभाग किया।