कोरोना के बाद पहला वैशाखी गंगा स्नान, लोगों ने लगाई गंगा में डुबकी।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/हरिद्वार: कोरोना काल के करीब ढाई वर्ष बाद धर्म नगरी हरिद्वार में इस बार वैशाखी पर्व पर हरिद्वार गंगा स्नान को श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी है। हरकी पौड़ी ब्रह्मकुंड अलावा अन्य गंगा घाट पर सुबह से ही श्रद्धालुओं की गंगा स्नान करने की भीड़ लगी हुई है, गंगा स्नान के लिए पुलिस प्रशासन की ओर से पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। बिना कोरोना प्रतिबंधों के हो रहे गंगा स्नान में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के जुटने की संभावना है। जिसके मद्देनजर मेला क्षेत्र को 15 जोन और 38 सेक्टरों में बांटा गया है।
मान्यता है कि यह त्योहार नववर्ष की शुरुआत है। इसे स्नान, भोग लगाकर और पूजा करके मनाते हैं। मान्यता है कि हजारों साल पहले देवी गंगा इसी दिन धरती पर उतरी थीं। उन्हीं के सम्मान में धर्मावलंबी पारंपरिक पवित्र स्नान के लिए गंगा किनारे एकत्र होते हैं तथा इस पर्व को मनाते है। श्रद्धालुओं का मानना है कि आज के दिन गंगा स्नान के साथ दान पुण्य करना से उनकी मनोकामना पूरी होती हैं और परिवार में सुख शांति प्राप्ति होती है