अक्षय ने शूटिंग छोड़कर हिमवीरों संग खेला वालीबॉल,कहा जवानों और उनके परिवारों से है विशेष लगाव।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

सँवादसूत्र देहरादून: आज बॉलीवुड खिलाड़ी अक्षय कुमार ने सीमाद्वार स्थित भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल परिसर में बनाए गए विश्वस्तरीय सिंथेटक वालीबाल ग्राउंड का उद्घाटन किया। आइटीबीपी के जवानों, उनके स्वजन व केंद्रीय विद्यालय के छात्र-छात्राओं से भी मिले। जवानों का हौसला बढ़ाने के लिए उन्होंने हिमवीरों के साथ वालीबाल मैच भी खेला। केंद्रीय विद्यालय आइटीबीपी के छात्रों ने इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया।
करीब दो बजे अक्षय कुमार आइटीबीपी परिसर पहुंचे। जहां हिमवीरों ने उनका गर्मजोशी से उनका स्वागत किया। आइटीबीपी के महानिदेशक संजय अरोड़ा व उत्तरी फ्रंटियर के आइजी नीलाभ किशोर ने उन्हें स्मृति चिन्ह भेंट किया। हिमवीर वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन की मेंटोर निधि श्रीवास्तव ने पुष्प गुच्छ भेंटकर अक्षय का स्वागत किया। इस दौरान बालीवुड सुपरस्टार को अपने करीब देख हिमवीर, उनके स्वजन व व स्कूली छात्र गदगद दिखे। आइजी नीलाभ किशोर ने बताया कि कठिन परिस्थितियों का सामना करते हुए हिमवीर किस तरह देश की रक्षा के लिए मुस्तैद हैं। फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार के अद्र्ध सैनिक बलों के जवानों व उनके स्वजन के कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों पर भी उन्होंने प्रकाश डाला। अक्षय ने भारतीय सेना व अद्र्ध सैनिक बलों की कर्तव्य परायणता और देश रक्षा के लिए किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि सेना व अद्र्ध सैनिक बलों के जवान व उनके स्वजन से उनका विशेष लगाव रहा है। शारीरिक दक्षता पर भी उन्होंने विस्तार से बात की और जवानों को कई टिप्स भी दिए। आइटीबीपी महानिदेशक ने केंद्रीय विद्यालय के छात्रों व आइटीबीपी के प्रतिभावान खिलाडिय़ों को सम्मानित किया।

अभिनेता अक्षय कुमार पिछले कई दिन से मसूरी की हसीन वादियों में अपनी फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। यह साउथ की फिल्म रत्सासन की रीमेक है। जिसमें उनके साथ अभिनेत्री रकुलप्रीत भी शूटिंग के लिए यहां पहुंची थी। फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार ने बीती सात फरवरी को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से भी मुलाकात की थी। सीएम ने उन्हें उत्तराखंड के ब्रांड एंबेसडर के रूप में काम करने का प्रस्ताव भी उनके सामने रखा था। जिसको अक्षय ने स्वीकार किया था। उत्तराखंड की नैसर्गिक सुंदरता से प्रभावित अभिनेता अक्षय ने भविष्य में यहां अपना घर बनाने की बात भी कही थी। मंगलवार को अक्षय मुंबई लौट गए थे। गुरुवार को वह वापस दून पहुंचे और सीमाद्वार स्थित आइटीबीपी परिसर में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया।