यूपी में अलर्ट : अन्य राज्यों में वैरिएंट डेल्टा प्लस संक्रमित मरीज पाए जाने से यूपी में जांच तेज करने के आदेश।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र लखनऊ : दूसरे राज्यों में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस से संक्रमित मरीज पाए जाने के बाद अब उत्तर प्रदेश में अलर्ट घोषित हो गया है। फिलहाल यूपी में अभी कोई रोगी नहीं मिला है। ऐसे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दूसरे राज्यों की सीमा से सटे जिलों में बाहर से आ रहे लोगों का सैंपल लेकर उसकी जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) भेजने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन व बस अड्डे पर भी पूरी सतर्कता बरती जाए। खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट से बचाने के लिए सभी जरूरी उपाए किए जाएं। उधर, विशेषज्ञों ने सलाह दी है कि सिरदर्द, सर्दी-जुकाम के कारण लगातार नाक बहने और गले में हो रही खराश को नजरअंदाज न करें। अब तक जो रोगी मिले हैं, उनमें यह लक्षण पाए गए हैं।

और पढ़ें  राज्य में आज कोरोना विस्फोट।

देश में कोरोना वायरस का एक नया रूप डेल्टा प्लस वैरिएंट सामने आया है। महाराष्ट्र केरल, मध्य प्रदेश और तमिलनाडु में अब तक इसके कुल 40 मामले सामने आ चुके हैं। कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएंट के उभार ने एक बार फिर भारत से लेकर दुनियाभर की सरकारों और विशेषज्ञों को चिंता में डाल दिया है। अब वैज्ञानिक इसको बेअसर करने के हथियार खोजने में जुटे गए हैं। देश के वैज्ञानिकों ने फैसला किया है कि वे इसको लेकर शोध करेंगे कि भारतीय वैक्सीन कोरोना वायरस के नए डेल्टा प्लस वैरिएंट के खिलाफ कितनी असरदार है और क्या ये डेल्टा प्लस वैरिएंट को बेअसर कर सकती है।

और पढ़ें  कम होने लगी कोरोना की रफ़्तार, आज 395 नये मामले।

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से घट रहा है। अब 52 जिलों में कोरोना के 50 से कम रोगी हैं। महोबा संक्रमण मुक्त हो चुका है और इसके सहित आठ जिलों में कोरोना के 10 से कम मरीज हैं। इनमें कासगंज, कौशांबी, चित्रकूट, श्रावस्ती, हाथरस, बदायूं व हमीरपुर शामिल है। गुरुवार को कोरोना से संक्रमित 229 नए रोगी मिले। अब तक कुल 17.05 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं और इसमें से 16.79 लाख लोग स्वस्थ हो चुके हैं। रिकवरी रेट 98.5 प्रतिशत है। अब सक्रिय केस घटकर 3,552 रह गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.