समय से पहले बारात ले गया दूल्हा, बाराती ने ठोका 50 लाख का दावा।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/हरिद्वार: निमंत्रण पत्र (कार्ड) में दिए गए समय से पहले बारात लेकर जाने पर दूल्हे के दोस्‍त ने उस पर 50 लाख रुपये की मानहानि का दावा कर दिया। दोस्‍त ने अपने अधिवक्‍ता के माध्‍यम से दूल्‍हे को नोटिस भेजा है।
हरिद्वार में बहादराबाद निवासी एक युवक की शादी धामपुर बिजनौर उप्र निवासी युवती के साथ तय हुई। शादी से पहले युवक ने अपने कुछ दोस्‍तों के साथ बैठकर बरातियों की सूची तैयार की। एक दोस्‍त के माध्‍यम से उसने अन्‍य सभी दोस्‍तों को शादी का कार्ड भेजा और उनसे कहा कि बरात में अवश्‍य चलना है। बरात चलने का समय 23 जून शाम पांच बजे तय हुआ। यही कार्ड पर भी लिखा गया था। दूल्‍हे के दोस्‍त ने अधिवक्‍ता के माध्‍यम से भेजे नोटिस में कहा कि बरात में बुलाए गए कुछ दोस्‍तों के साथ वह 23 जून को शाम चार बजकर 50 मिनट यानी नियत समय से 10 मिनट पहले वह बताए गए स्‍थल पर पहुंचा तो पता चला कि बरात जा चुकी है। इस पर उसने दूल्‍हे को फोन करके जानकारी ली तो उसने बताया कि हम लोग जा चुके हैं, आप लोग वापस चले जाएं।
दूल्‍हे के दोस्‍त में नोटिस में जिक्र किया है कि उसके कहने पर जो लोग शादी में जाने के लिए आए हुए थे, उन सभी लोगों को दुख पहुंचा। उन्‍होंने उसे खरी-खोटी सुनाई। इससे उसे मानसिक प्रताड़ना पहुंची। साथ आए दोस्‍तों के ताने सुनने पडे। इससे उसकी छवि भी खराब हुई है। जब उसने यह बात दूल्‍हे को फाेन करके बताई तो उसने खेद नहीं जताया, इसलिए उसने मानहानि का मुकदमा दर्ज करने का निर्णय लिया। नोटिस में कहा गया कि दूल्‍हा तीन दिन के अंदर सार्वजनिक रूप से क्षमा याचना करे। ऐसा करने पर वह मानहानि के रूप में अदालत में 50 लाख का वाद दायर करेंगे।