सेवानिवृत्त आइएफएस अधिकारी किशनचंद सहित तीन के पर मुकदमा दर्ज करने की संस्तुति।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून: कार्बेट नेशनल पार्क में अवैध कटान और निर्माण व अन्य अनियमितताओं के मामले में विजिलेंस ने सेवानिवृत्त आइएफएस अधिकारी किशनचंद सहित तीन के खिलाफ जांच कर रिपोर्ट शासन को भेज दी है। विजिलेंस के निदेशक अमित सिन्हा ने बताया कि जांच में काफी साक्ष्य मिले हैं। तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की संस्तुति की गई है।
उत्तराखंड वन विभाग में कार्बेट नेशनल पार्क के अंदर अवैध निर्माण व अन्य अनियमितताओं की शिकायत मिली थी। इस मामले में नौ नवंबर 2021 को शासन ने विजिलेंस को जांच सौंपी थी। घटना पूर्व वन मंत्री हरक सिंह रावत के कार्यकाल के दौरान की है, ऐसे में जांच की आंच उनके ऊपर भी आ सकती है। किशनचंद के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का भी मुकदमा दर्ज है। वह इसी 30 जून को ही सेवानिवृत्त हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.