फायर ब्रिगेड की टीम बनी आटो चालक के लिए देवदूत।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून: एक आटो चालक के लिए फायर ब्रिगेड की टीम देवदूत बनकर आई। टीम ने न सिर्फ आटो के नीचे दबे चालक को बाहर निकाला ब्लकि उसे समय पर अस्पताल पहुंचाकर उसकी जान बचाई। घटना रविवार देर रात की है। फायर ब्रिगेड की टीम को सूचना मिली कि ब्रदीश कालोनी के जंगल में आग लगी है। फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची और आग बुझाई।
वापसी के समय सब्जी मंडी चौक धर्मपुर निकट बेकरी के पास चौक में एक अज्ञात वाहन ने एक आटो को टक्कर मार दी, जिससे आटो पलट गया और चालक विक्की निवासी त्यागी रोड एमडीडीए कालोनी लोहियापुरम और आटो में सवार पवन निवासी एमडीडीए कालोनी आटो के नीचे दब गए। वहां से गुजर रहे लोगों ने जब किसी ने उनकी सुध नहीं ली तो फायर ब्रिगेड की टीम में शामिल फायर सर्विस चालक प्रदीप कुमार, फायरमैन बिपेंद्र सिंह और महेश सेमवाल ने तुरंत स्थानीय लोगों की मदद से आटो को सीधा कराकर आटो के नीचे दबे दोनों व्यक्तियों को बाहर निकाला।
हादसे में आटो चालक विक्की के सिर पर काफी गहरी चोट लगने के कारण काफी खून बह गया था, और उसकी हालत काफी गंभीर थी। फायर ब्रिगेड कर्मियों ने तुरंत दोनों को मिनी फायर टेंडर में बैठाकर दून अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया। चिकित्सकों ने विक्की के सिर पर टांके लगाकर उपचार शुरू किया वहीं दूसरे घायल व्यक्ति के हाथ में फ्रेक्चर बताया। इसके साथ ही 112 पर सूचना देकर घायलों के स्वजनों को घटना की जानकारी देकर अस्पताल बुलाया।