बाल विवाह में दूल्‍हे समेत चार गिरफतार।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/ऋषिकेश: नाबालिग से शादी कर लौट रहे दूल्‍हे, उसके जीजा के साथ ही किशोरी की मां समेत चार को पुलिस ने गिरफतार कर लिया। किेशोरी को चाइल्ड लाइन एवं महिला बाल विकास परियोजना की टीम के सुपुर्द कर दिया है। दूल्‍हा मेरठ से बरात लेकर आया था।
यह मामला शनिवार सुबह ऋषिकेश में सामने आया। शांति नगर ऋषिकेश निवासी रेखा कोठियाल की सूचना पर पुलिस सक्रिय हुई। रेखा ने पुलिस को बताया कि उसकी भाभी अपनी 14 वर्षीय भतीजी की मनसा देवी मंदिर में हस्तिनापुर मेरठ उप्र निवासी कपिल के साथ शादी करा रही है। मंदिर पहुंच कर जानकारी मिली कि पुजारी ने बालिका के नाबालिग होने का हवाला देकर शादी कराने से मना कर दिया। इस पर कपिल ने जबरदस्‍ती उसके गले में फूलों की माला डाल दी और इसके बाद साथ आए लोगों संग उसे कार में बैठाकर मेरठ के लिए चल दिया। पुलिस ने श्यामपुर फाटक के पास कार को रोक लिया। उसमें सवार दूल्‍हा कपिल कुमार (निवासी आरके कालोनी बंगाली बाजार, हस्तिनापुर, जनपद मेरठ, उत्तर प्रदेश) नकुल (निवासी ग्राम फूल का झाड़ थाना जानी जनपद मेरठ उत्तर प्रदेश) दीपक (निवासी गली नंबर 4 शांति नगर ऋषिकेश जनपद देहरादून) के साथ ही नाबालिग की मां को गिरफ्तार कर लिया। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक रवि सैनी ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम-2006 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।