उत्तराखंड में बुजुर्गों को ठगने वाले उत्तर प्रदेश के जीजा-साला गिरफ्तार।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/रुद्रपुर : बुजुर्गों को सम्मोहित कर ठगने वाले उत्तर प्रदेश के जीजा-साले को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से मेट्रोपोलिस सिटी गेट के पास से हल्द्वानी की वृद्धा और ऊधम सिंह नगर आवास विकास निवासी वृद्ध से ठगी गई सोने की चेन, अंगूठी और मंगलसूत्र बरामद हुआ है।
ऊधम सिंह नगर जिले के एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि सात नवंबर को हल्द्वानी हिम्मतपुर तल्ला भगवानपुर निवासी हेमा पंत पेंशन जीवित प्रमाण पत्र जमा करने ट्रेजरी कार्यालय आई थीं। शाम को वापसी के समय स्कूटी सवार युवक उन्हें अपनी बातों में उलझाकर सोने के आभूषण ठग ले गया। सीसीटीवी फुटेज में आरोपित नैनीताल की ओर भागते हुए दिखा। पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की। रविवार सुबह छतरपुर-दिनेशपुर रोड पर वाहनों की जांच के दौरान स्कूटी सवार दो संदिग्धों को पकड़ा गया। पूछताछ में उनकी पहचान ग्राम बिलारी मलकुवा, थाना बिलारी, मुरादाबाद और हाल रामनगर निवासी धर्मेंद्र सिंह पुत्र कुंवर पाल सिंह व ग्राम जौहरपुर सीबीगंज बरेली उत्तर प्रदेश हाल गायत्री विहार पीरूमदारा बसई रामनगर निवासी विनोद कुमार शर्मा पुत्र संपूर्णानंद शर्मा के रूप में हुई। दोनों रिश्ते में जीजा-साला हैं। उन्होंने मेट्रोपोलिस कालोनी गेट के पास से वृद्धा से सोने के जेवर व ट्रांजिट कैंप आवास विकास निवासी कृपाल सिंह से चार माह पहले सोने की अंगूठी और चेन ठगने की बात स्वीकर की। पुलिस ने दोनों से घटना में प्रयुक्त स्कूटी के साथ ही ठगे गये आभूषण बरामद कर लिए।

आरोपित ठगी में पुलिस की वर्दी पहनने से भी गुरेज नहीं करते थे। वह उत्तर प्रदेश के साथ ही देहरादून, नैनीताल और ऊधम सिंह नगर में 26 से अधिक घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। एसएसपी ने बताया कि देहरादून व नैनीताल पुलिस से संपर्क किया गया तो पता चला कि दोनों पर 10 मुकदमे दर्ज हैं। उत्तर प्रदेश में भी 15 से अधिक केस दर्ज हैं।