1200 करोड़ का स्कैम करने वाला दिल्ली से गिरफ्तार।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून: जीएलसी प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी में आनलाइन ट्रेडिंग की बात कहकर फर्जी बेवसाइट के माध्यम से रूपये कमाने का लालच देकर धोखाधड़ी स्करने वाले एक नेपाली मूल के व्यक्ति को साइबर थाना पुलिस ने दिल्ली आए गिरफ्तार किया है।
एसटीएफ़ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल ने बताया कि चार सितंबर 2021 को अमित कुमार निवासी- डी-2 ज्वालापुर सुभाष नगर हरिद्वार ने तहरीर थी। उन्होंने बताया कि अज्ञात व्यक्ति ने व्हाटसएप पर मैसेज भेजकर जिसमें सोना, रेडवाइन, मसाले आदि चीजों की चीन से आनलाइन ट्रेडिग पर इन्वेस्टमेंट करके ज्यादा मुनाफा कमाने का प्रलोभन देकर विभिन्न तिथियों में भिन्न-भिन्न खातों में 15 लाख रुपये की ठगी की गई।
घटना में इस्तेमाल विभिन्न बैक खातों की डिटेल, केवाईसी और मोबाईल नम्बरों की जांच की गई। इसमें मनी-लांड्रिग व चाइनीज कनेक्शन होना प्रकाश में आया । इस मामले में एसटीएफ़ की टीम ने आरोपित रोहित कुमार को पंजाब के फरीदकोट पाकिस्तान बार्डर से, दो आरोपितों को भोपाल मध्य प्रदेश से और एक को राउरकेला उड़ीसा से गिरफ्तार किया गया।
प्रकरण में मुम्बई के एक फिल्म निर्माता की संलिप्तता पाये जाने पर नोटिस तामील कराया गया । दिल्ली में स्थित कंपनियों पर कार्यवाही करते हुए तीन आरोपितों के विरूद्व गैर जमानती वांरट प्राप्त करते हुये लुक आउट सर्कुलर जारी किया।
एसएसपी ने बताया कि इस स्केंडल में कम से कम 1200 करोड़ के घोटाले का पर्दाफाश हुआ है। जांच जे बाद एक अन्य आरोपित नेपाल मूल के यम बहादुर हाल निवासी मकान विजय विहार, रोहणी सैक्टर 5, नई दिल्ली मूल निवासी ग्राम कारीकोट, राईडांडा, थाना वालिम, वार्ड नं0 9, जिला शियांगजा, गंडकी अंचल नेपाल को नई दिल्ली से गिरफ्तार किया है।