भारी बरसात से उत्तराखंड में भारी नुकसान।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र चमोली/नैनीताल/पिथौरागढ़: लगातार हो रही बारिश से राज्य के कई पहाड़ी क्षेत्रों में मलबा आने से जान माल की क्षति पहुंची,,चमोली में हेंलग के पास कई दुकानों में घुसा मलवा, गाड़ियां क्षतिग्रस्त रविवार से हुई बारिश मंगलवार तक नहीं थमी बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर हेंलग के पास दुकानों में अचानक मलबा घुस गया पहाड़ों से भारी मात्रा में मलबा व पत्थर दुकानों के अंदर घुसा जिसकी वजह से दुकानें क्षतिग्रस्त हो गई दुकान स्वामियों ने अपने सामान को आनन-फानन में सुरक्षित स्थान पर रखने की कोशिश की वहीं सड़क पर खड़ी गाड़ियों में भी ऊपर से बड़े-बड़े पत्थर गिर गए बीआरओ का ट्रक भी क्षतिग्रस्त हो गया है।

और पढ़ें  पीले राशन कार्डधारकों को मिलेगा तीन महीने का अतिरिक्त राशन।

रामगढ़ के सकूना झुतिया में बादल फटने से मकान में आया भारी मलवा,मलवे में 10 से 12 लोगों के दबे होने की खबर,एसएसपी सहित पुलिस टीम मौके के लिए रवाना हुई,ओखलकांडा में भी मलवा आने से भारी नुकसान

नैनीताल जिले की अधिकतर सड़कें हुई बंद,हरिद्वार 2 दिनों से पहाड़ों में हो रही वर्षा के कारण गंगा खतरे के निशान के ऊपर ।गंगा अपने खतरे के निशान 294 मीटर से 0.35 मीटर ऊपर 294.35 मीटर पर बह रही है।

और पढ़ें  सीएम ने डेंगू से बचाव के लिए व्यापक स्तर पर जन जागरूकता अभियान चलाये जाने हेतु जिलाधिकारियों को निर्देश दिये।

हरिद्वार में गंगा के निकटवर्ती क्षेत्रों को अलर्ट कर दिया गया है।नैनीताल रामगढ़ में बादल फटने से 12 लोगो की मौत , 20 से ज्यादा लापता हैं, पिथौरागढ़ में 29 सड़के बंद,रामनगर मोहान के रिजॉर्ट 100 लोगों फंसे होने की सूचना,नैनीताल के गुफा महादेव क्षेत्र के कई मकान खाली कराए गए।

भवाली(नैनीताल) में लगातार हो रही बारिश से मंगलवार को रामगढ़ ब्लाक के राजस्व गाँव सकुना में एक मकान के कमरे में पीछे की ओर से अचानक भारी मलबा आ गया। कमरे में 10 मजदूर सो रहे थे। जिसमें से एक उठकर बाहर कूद गया। जिसकी हालत गम्भीर है। बांकी नौ मजदूरों की मलवे में दब कर मौत हो गई। सुबह ग्राम प्रधान सुरेश मेर ने घटना स्थल का जायजा लिया और प्रशासन की टीम को जानकारी दी। ग्राम प्रधान ने बताया कि जगह-जगह मार्ग अवरुद्ध होने के कारण राहत टीम को घटनास्थल पर पहुँचने में समय लग रहा है। पुलिस व राजस्व टीम के पहुँचने के बाद रेस्क्यू चलाया जाएगा। इसके अलावा गांव में आठ मकान भी ध्वस्त हो चुके है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *