20 साल से वांछित डकैत लखनऊ से दबोचा।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/हरिद्वार: हरिद्वार जनपद से 20 वर्ष से कुख्यात डकैती का वांछित अपराधी 25 हजार का ईनामी बदमाश लखनऊ से तथा एक अन्य उधमसिंह नगर से 15 हजार का ईनामी तमंचे समेत अपने साथी के साथ नानकमत्ता से एसटीएफ द्वारा किया गया गिरफ्तार

उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक श्री अशोक कुमार द्वारा राज्य के इनामी अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ श्री आयुष अग्रवाल महोदय द्वारा उत्तराखंड में गैंगस्टर एवं इनामी अपराधियों के विरुद्ध कार्रवाई करने के निर्देश अपनी टीमों को दिए गए थे उक्त निर्देशों के क्रम में एसटीएफ टीम वांछित एवं इनामी अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत है इसी क्रम में एसटीएफ टीम को सूचना प्राप्त हुई की थाना गंगनहर से वर्ष 2002 से डकैती की घटना को अंजाम देकर फरार शातिर अपराधी परवेज उर्फ परू उर्फ रियासत पुत्र सदन पठान निवासी ग्राम फैजपुर थाना मुगलपुरा जिला मुरादाबाद जो कि 25 हजार का इनामी है पिछले 20 सालों से वांछित चल रहा है।

और पढ़ें  सीएम ने अधिकारियों को भर्ती प्रक्रियाओं में तेजी लाने के दिये निर्देश।

एसटीएफ टीम को सूचना प्राप्त हुई थी थाना गंगनहर पर पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 162/2002 धारा 395, 397 भा०द०वि० में वांछित अपराधी परवेज जो कि वर्ष 2002 से फरार चल रहा था एवं थाना गंगनहर पुलिस द्वारा जिसकी तलाश में गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। वर्ष 2003

में ही अभियुक्त परवेज के घर की कुर्की भी हुई थी अभियुक्त परवेज उर्फ परू के विरुद्ध मफरूरी में दिनांक 15 जून 2022 को आरोप पत्र प्रेषित किया गया था। अभियुक्त तब से अभी तक लगातार फरार चल रहा था एवं विगत 20 वर्षों से पुलिस उक्त परवेज को तलाश कर रही थी।

और पढ़ें  33वे राष्ट्रीय कैनो स्प्रिंट सीनियर चैम्पियनशिप-2022 का शुभारंभ हुआ।

परवेज के संबंध में सूचना प्राप्त हुई कि लखनऊ में आसिफ नाम बदलकर रह रहा था और छोटा हाथी चला रहा था। और लखनउ में ही शादी करके रह रहा था ।

उक्त सूचना के आधार पर एसटीएफ देहरादून से एक टीम लखनऊ पहुंची एवं मुखबिर की सूचना के आधार पर परवेज उर्फ परू उपरोक्त को दिनांक 20 दिसंबर 2022 को लखनऊ से शाम लगभग 7:00 बजे गिरफ्तार किया गया परवेज उर्फ परू उर्फ रियासत पुत्र सदन पठान निवासी ग्राम फैजपुर थाना मुगलपुरा जनपद मुरादाबाद उम्र करीब 50 वर्ष अभियुक्त द्वारा अपने साथियों के साथ मिलकर दिनांक 10 अगस्त 2002 पूर्वी अम्बर तालाब रुड़की में एक घर में घुसकर मारपीट कर बंधक बनाकर डकैती की घटना को अंजाम दिया गया था जिस संबंध में थाना गंगनहर पर मुकदमा 162/2002 धारा 395/397 भा0द0वि० दर्ज किया गया था उक्त अपराध में परवेज के साथी सह अभियुक्त 1 राशिद पहलवान उर्फ पठान 2 जमील उर्फ छोटा 3 नदीम उर्फ संजय 4 आमीर उर्फ नैना 5 तनवीर उर्फ गुड्डू उर्फ हैदर उर्फ हकला को हरिद्वार पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया था लेकिन अभियुक्त परवेज तब से लगातार फरार चल रहा था जिसकी पुलिस द्वारा कुर्की भी की जा चुकी थीं अभियक्त तब से लखनऊ में नाम बदल कर रह रहा था।