बीती दिनों भूस्खलन में दबे दो ग्रामीणों के शव एसडीआरएफ की टीम ने बरामद किये।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र गोपेश्वर : नारायणबगड़ विकासखंड के डूंग्री गांव में 19 अक्तूबर को पहाड़ी के मलबे में दबे दो ग्रामीणों के शव एसडीआरएफ की टीम ने बरामद कर लिए हैं।
गौरतलब है कि 19 अक्तूबर को आपदा से क्षतिग्रस्त पेयजल लाइन का सुधारीकरण करने गए स्थानीय ग्रामीण भरत सिंह व महावीर सिंह पहाड़ी से आए मलबे दबकर लापता हो गए थे। जिसके बाद से प्रशासन , आपदा प्रबंधन व एसडीआरएफ की टीम लापता ग्रामीणों की खोजबीन में जुटी थी। खोजबीन के दौरान वीरवार को टीम ने दोनों के शव बरामद कर लिए हैं। इससे पूर्व 22 अक्तूबर को सीएम पुष्कर धामी ने गाँव पहुंचकर लापता ग्रामीणों के स्वजनों से मुलाकात कर हर सम्भव मदद का भरोसा दिया था। आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदकिशोर जोशी ने बताया कि
डुंग्री गांव निवासी भरत सिंह नेगी पुत्र स्व0 गुमान सिंह नेगी उम्र 48 वर्ष व महावीर सिंह सिंह पुत्र किसन सिंह उम्र 33 वर्ष विगत 19 अक्टूबर की सायं से लापता चल रहे थे। 19 अक्टूबर को बारिश बंद होने के बाद सायं को दोनों लोग अपने गांव के निकट पेयजल लाईन को ठीक करने के लिए गए थे। इसी दौरान दोनों लोग वहां पर भारी भूस्खलन की चपेट में आ गए और तब से लापता चल रहे है। आज दोनों लापता व्यक्तियों के शव रेस्क्यू टीम द्वारा बरामद किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *