आइडीपीएल कालोनी में घुसा गुलदार हुआ कैद।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून/ऋषिकेश: आइडीपीएल नई कालोनी के खंडहरों में बीते शुक्रवार से छुपे गुलदार को वन विभाग की टीम ने आखिरकार पकड़ने में सफलता हासिल कर ली। शनिवार की शाम जाल लगाकर गुलदार को पकड़ा गया। जिसे पिंजरे में कैद कर सुरक्षित रेंज कार्यालय लाया गया।
आइडीपीएल नई कालोनी क्षेत्र में बीते शुक्रवार को गुलदार ने सड़क में घूम रहे एक कुत्ते को मार दिया था जिसके बाद वहां समीप ही तीसरी मंजिल के खंडहर में छिप गया था। रेंज कार्यालय की ओर से मौके पर पिंजरा लगाया गया था लेकिन गुलदार पिंजरे के पास आया तक नहीं। शनिवार की सुबह गुलदार इस खंडहर से निकल के दूसरे भवन के खंडहर की और चला गया।खंडहर हो चुके क्वार्टर में गुलदार के घुसने से आसपास रहने वाले लोग में दहशत फैल गई। सूचना पाकर वन कर्मी मौके पर पहुंचे। गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया और जाल बिछाया। लेकिन वह पकड़ में नहीं आया।
खंडहर के दरवाजे के बाहर वन कर्मियों ने क्या हाल लगाया उसके बाद खंडहर के पिछले हिस्से से लगातार पटाखे फोड़े गए जिसके बाद गुलदार खंडहर से बाहर आया और जाल की चपेट में आ गया। जिसे तत्काल पिंजरे में डाल दिया गया।
करीब आठ घंटे लगातार रेस्क्यू के बाद गुलदार पिंजरे में कैद हुआ और लोग ने राहत महसूस की।
वन क्षेत्राधिकारी ललित मोहन सिंह नेगी ने बताया कि बताया कि शनिवार सुबह करीब 11 बजे सड़क पर एक गुलदार घूमता नजर आया। बीते रोज यह गुलदार खंडहर में जाकर छुप गया था। लोग ने जैसे ही शोर मचाया गुलदार खंडहर हो चुके एक क्वार्टर में घुस गया।
सुरक्षा की दृष्टि से सशस्त्र वन कर्मी भी मौके पर तैनात कर दिए गए। आसपास लोगों की भीड़ को वहां से हटा दिया गया।
वनक्षेत्राधिकारी ने बताया कि पिंजरे में गुलदार को ऋषिकेश रेंज कार्यालय पहुंचा दिया गया। विभाग की चिकित्सीय टीम को सूचित कर दिया गया है। परीक्षण के बाद ही गुलदार को अन्यत्र शिफ्ट किया जाएगा।गुलदार की उम्र करीब चार साल है।