लोक की बात मानना ही लोकतंत्र है: उनियाल

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/रुद्रप्रयाग: लोक की बात मानना ही लोकतंत्र है ये बात भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश उनियाल ने तीर्थ पुरोहितों व पंडा समाज के सादे समारोह में कही।
गुलाबी ठंड के बीच समूचे केदार घाटी में खुशी की लहर दौड पडी है आखिर जो अधिनियम दो साल पूर्व त्रिवेंद्र रावत सरकार थोप कर गयी थी,आज प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिह धामी ने भंग कर दिया।
विदित है कि दो साल से तीर्थ पुरोहितों व पंडा समाज के द्वारा देवास्थानम बोर्ड को भंग करने के माँग को लेकर आंदोलनरत थे जिसका की मंगलवार को बिना किसी पाखंड के धामी सरकार ने भंग कर दिया है।
मंगलवार सुबह जैसे ही भंग करने की घोषणा हुई वैसे ही तीर्थ पुरोहितों व पंडा समाज के लोगों द्वारा भाजपा के जिलाध्यक्ष दिनेश उनियाल को बीच कार्यक्रम से ले जाकर उनका माल्यार्पण कर धामी जिंदाबाद के नारों से केदार घाटी को गुजायेमान कर दिया,लोकतंत्र में यह पहला मौका होगा जब स्थानीय लोगों ने अपने नेता के समान में उनको अन्य कार्यक्रम से ले जाकर सम्मान दिया हो।
इस अवसर पर जिलाध्यक्ष दिनेश उनियाल ने कहा कि युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिह धामी ने लोक की बात मानकर लोकतंत्र को मजबूत किया है यही असल लोकतंत्र है। उन्होंने कहा कि केदारनाथ धाम में यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे की तैयारी चल रही थी ओर तीर्थ पुरोहित व पंडा समाज विरोध पर उतारू थे लेकिन युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिह धामी ने जो वायदा किया था उसे पूर्ण कर आप सब का विश्वास हासिल किया है।
जिलाध्यक्ष दिनेश उनियाल ने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनावों में भी आपको भी युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिह धामी को विश्वास दिलाना होगा कि हम भी आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े है,और इस बार केदारनाथ विधानसभा में भी कमल खिलाने की सौगन्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.