केदारनाथ यात्रा: घोड़े खच्चरों की वाटर प्रुफ गद्दी का भुगतान न होने पर टावर में चढा व्यक्ति।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून/रुद्रप्रयाग: केदारनाथ यात्रा में संचालित हो रहे घोड़े खच्चरों की वाटर प्रुफ गद्दी का भुगतान न होने से नाराज एक व्यक्ति जिला मुख्यालय में जिला अस्तपाल के पास स्थित बीएसएनएल टावर पर चढ़ गया। कल देर रात तक वह टावन पर चढ़ा हुआ था। जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुमंत तिवारी इस मामले में लगातार प्रशासन व पुलिस से संपर्क बनाए हुए थे।
प्रशासन ने केदारनाथ यात्रा में संचालित घोड़े खच्चरों के ऊपर बारिश व बर्फबारी को देखते हुए वाटर प्रुफ गद्दी बनाने का अनुबंध किया गया। ऊखीमठ विकास खंड के ग्राम सभा तुलंगा निवासी अवतार सिंह केदारनाथ यात्रा ने वाटर प्रुफ गद्दी को लेकर जिला पंचायत के साथ अनुबंध किया गया था। जिस पर उनका कहना है कि चालीस लाख से अधिक का खर्चा किया गया। जिसे उधार लाकर कार्य किया गया, ताकि यात्रा सफलता पूर्वक संचालित हो सके, लेकिन प्रशासन ने इस कार्य को बीच में ही बंद कर दिया। जिसके कारण उनका भुगतान रोक दिया गया। उसने बताया कि भुगतान को लेकर प्रशासन, विकास विभाग से लेकर जिला पंचायत तक लगातार अधिकारियों से संपर्क किया गया।किंतु इसके बाद भी भुगतान नहीं किया। इससे नाराज होकर शाम लगभग साढ़े छह बजे वह जिला मुख्यालय में जिला चिकित्सालय के पास स्थित वीएसएनएल के टावर पर चढ़ गया। उन्हें नीचे उतारने के लिए प्रशासन पुलिस और जिला पंचायत लगातार प्रयासों में जुटी रही। लेकिन भुगतना न होने तक उसने उतरने से मना कर दिया। देर रात तक वह टावर पर ही चढ़ा था।
पुलिस उपाधीक्षक प्रबोध घिल्डियाल ने बताया कि पुलिस ने उक्त व्यक्ति को नीचे उतारने का प्रयास किया जा रहा है उक्त व्यक्ति भुगतान की मांग को लेकर टावर पर चढ़ा है। फोन से लगातार उक्त व्यक्ति द्वारा संपर्क किया जा रहा है। इधर जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी राजेश कुमार ने बताया किस सरकारी प्रक्रिया में भुगतान में समय लगता है जल्दी संबंधित व्यक्ति का भुगतान कर दिया जाएगा, इसकी प्रक्रिया जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.