नैनीताल की बलियानाला पहाड़ी में भूस्खलन।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/नैनीताल: भूगर्भीय दृष्टि से बेहद संवेदनशील बलियानाला पहाड़ी से देर रात भूस्खलन हुआ है। जिसमें जीआइसी के नीचे स्थित मैदान का करीब 20 मीटर हिस्सा दरक कर खाई में समा गया। देर रात भूस्खलन होने से क्षेत्रवासियों की भी नींद टूट गई।खतरे की आशंका को देखते हुए क्षेत्रवासी घरों से बाहर निकल गए।पहाड़ी से हो रहा भूस्खलन आबादी क्षेत्र की ओर बढ़ने के कारण लोगों में हड़कंप मचा हुआ है। लोगों ने जिला प्रशासन से सुरक्षित स्थान पर विस्थापित किये जाने की मांग की है। वर्षों से बलियानाला की पहाड़ी पर हो रहा भूस्खलन शहर के लिए बड़ी चिंता का कारण बना हुआ है। हर मानसून सीजन के दौरान पहाड़ी पर भूस्खलन होने से क्षेत्रवासियों में उनके आवास ढह जाने का खतरा बना रहता है। प्रशासन व पालिका की टीम प्रभावित क्षेत्र का जायजा ले रही है।

रात में मुहाने पर स्थित आवासों में नहीं रह रहे लोग
मानसून सीजन के दौरान बलियानाला पहाड़ी पर भूस्खलन की आशंका को देखते हुए पालिका की ओर से 55 परिवारों को विस्थापन के नोटिस जारी किए गए थे। मगर क्षेत्रवासियों ने नोटिस रिसीव नहीं किए। इधर वर्षा शुरू होने के बाद पहाड़ी पर भूस्खलन का खतरा बढ़ गया है। ऐसे में पहाड़ी के मुहाने की तरफ बने आवासों में लोग रात को नहीं रह रहे। बलियानाला संघर्ष समिति के अध्यक्ष मुख्तार अहमद ने बताया कि रात के समय लोग अपने रिश्तेदारों व अन्य सुरक्षित स्थानों पर चले जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.