पी रहे थे शराब, उठा ले गया बाघ।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/रामनगर: नेशनल हाइवे से एक युवक को बाघ उठा ले गया। जबकि उसके दो साथी बाल-बाल बच गए। तीनों युवक जंगल किनारे हाइवे पर शराब पी रहे थे। युवक के कपड़े व मोबाइल आदि वन कर्मियों ने बरामद कर लिया। इस घटना के बाद हाइवे पर दहशत का माहौल बन गया है।
कार्बेट टाइगर रिजर्व व रामनगर वन प्रभाग के बीच से गुजर रहे हाइवे पर पिछले कई दिनों से बाघ के हमले की घटनएं हो चुकी है। शनिवार को रामनगर के मोहल्ला नार्मल स्कूल खताड़ी निवासी नफीस अहमद पुत्र, इंद्रा कालोनी निवासी सूरज नेगी उर्फ रवि नेगी तथा चेप्सी उर्फ सामी स्कूटी से पनोद नाले की ओर गए थे। पुलिस के मुताबिक पूछताछ में पता चला कि तीनों युवक पनोद के समीप जंगल किनारे शराब पी रहे थे। इस बीच बाघ ने नफीस अहमद पर हमला किया और उसे घसीटकर जंगल को ले गया। यह नजारा देख एक डंपर चालक ने दोनों युवकों को अपने वाहन में बैैठाया। उन्हें वाहन से चालक वन चौकी लाया। दोनों युवकों ने वन कर्मियों को जानकारी दी तो हड़कंप मच गया। युवक की तलाश चल रही है। डीएफओ कुंदन कुमार के निर्देश पर कोसी रेंज की टीम ने रेंजर शेखर तिवारी के नेतृत्व में जंगल में छानबीन की।
मोहान से पनोद डेढ़ किलोमीटर के बीच में बाघ हमले कर रहा है। बीते 17 दिसंबर को भी बाघ ने एक पूर्व सैनिक को हमला कर मार डाला था। तब से वन विभाग सक्रिय है। शनिवार को भी पांच बजे वनकर्मी गिरिजा पुलिस चौकी के समीप बाइक सवारों को अंधेरे में जाने से रोकने के लिए आए थे। पुलिस ने बताया कि तीनों युवक संभवत: दिन में ही पनोद की ओर चले गए थे।