स्किल्ड प्रोफेशन की मदद से टीडीसी को घाटे से उबारेगा कॉरपोरेशन:सुबोध उनियाल

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून : कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्री  सुबोध उनियाल की अध्यक्षता में रिंग रोड स्थित कृषि भवन सभागार में उत्तराखण्ड सीड्स एण्ड तराई डेवलपमेंट कार्पोरेशन लि0 पंतनगर की 237 वीं निदेशक मण्डल की बैठक आयोजित की गयी।सीड्स एवं तराई डेवलमेंट कर्पोरेशन बोर्ड की समीक्षा बैठक में कृषि मंत्री ने प्रदेश के किसानों-कास्तकारों के कल्याण हेतु महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश देते हएु सम्बन्धित अधिकारियों को गंभीरता से उस पर अमल करने को कहा।मैदानी और पहाड़ी क्षेत्रों दोंनो के लिए उनकी जलवायु परिस्थितियों के अनुरूप विभिन्न प्रकार की प्रजातियों को विकसित करने और इसके लिए पर्वतीय क्षेत्रों में कलस्टर सर्विस प्रोवाइडर और स्थानीय किसान समूहों के समन्वय से उन्हीं क्षेत्रों में बीज की नई प्रजातियों को विकसित करने के निर्देश दिये। उन्होंने बीजों के विक्रय और वितरण के लिए वार्षिक कलैण्डर बनानें को कहा, जिसमें स्पष्ट प्रावधान हो कि इस अवधि के भीतर ही अलग-अलग प्रकार के बीज किसानों को विक्रय किया जायेगा। इसके लिए उन्होंने पब्लिक डोमेन हेतु वेबसाईट पर भी दर्शानें के निर्देश दिये और उसे लगातार अपडेट भी करते रहने को कहा। उन्होंने कहा कि पर्वतीय और मैदानी क्षेत्रों की विभिन्न प्रजातियों को आपस में मिश्रित ना करें। उन्होंने निर्देश दिये कि प्राइवेट बीज कम्पनियों को निगम से ही फाउन्डेशन सीड खरीदने की नीति बनायी जाय। उत्पादन बढाने हेतु तकनीकी कार्मिकों की नियुक्ति बढायी जाय और मार्केटिंग को बेहतर किया जाय। मंत्री ने तराई बीज निगम को घाटे से उबारने, उत्पादन में बढ़ोतरी करने, बेहतर अकास्टिंग और वित्तीय प्रबन्धन हेतु स्किल्ड प्रोफेशन की कुछ समय तक सहायता लेने के निर्देश देते हुए नई तकनीक और इनोवेटिव तरीकों को अपनाने को कहा। उन्होंने चतुर्थ श्रेणी कार्मिकों को अन्य विभागों में मर्ज करने हेतु प्रस्ताव बनाने, बजट और बैलेंसशीट को अपडेट करते हुए अगली वार्षिक बैठक में प्रस्तुत करने तथा किसानों की डिमाण्ड के अनुरूप प्रजातियों को डेवलप करने पर जोर देने के निर्देश दिये।
बैठक में अपर मुख्य सचिव कृषि मनीषा पंवार, प्रभारी सचिव वित्त , अपर सचिव कृषि राम विलास यादव, प्रबन्ध निदेशक टी0डी 0सी0 और जिलाधिकारी उधमसिंह नगर रंजना राजगुरू, पंतनर विश्व विद्यालय के निदेशक डाॅ डी.के त्रिपाटी, निदेशक बीज प्रमाणीकरण डाॅ परमाराम, कृषक निदेशक समरपाल एस ग्रेवाल, अंकुर पपनेजा व मुकुल माहेश्वरी सहित सम्बन्धित कृषि विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *