मोदी ने पहनी उत्तराखंडी टोपी, राजनीति शुरू।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

सँवादसूत्र देहरादून: 73वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उत्तराखंड से विशेष लगाव को देखा गया, उन्होंने उत्तराखंड की सांस्कृतिक पहचान का द्योतक पहाड़ी टोपी पहनी थी, जिस पर ब्रह्म कमल इंगित था। सीएम के इस अंदाज से राज्यवासी गौरवान्वित भी महसूस कर रहे हैं साथ ही इस पर राज्य में एक बार फिर राजनीतिक गलियारों में हलचल भी देखने को मिल रहा है। भाजपा का कहना है कि पीएम ने एक बार फिर उत्तराखंड से अपने जुड़ाव को प्रदर्शित किया है।
एक बार फिर राज्य के पांचवें विधानसभा चुनाव के मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की टोपी ने हलचल पैदा कर दी है, जबकि अक्सर देखा जाता है कि इस टोपी को केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट अक्सर पहनते हैं। हाल के दिनों में यह टोपी भाजपा व कांग्रेस के नेताओं में लोकप्रिय हुई है । प्रधानमंत्री ने आज राष्ट्रीय दिवस पर इसे पहनकर राज्यवासियों को भी गर्व से भर दिया। यह बात अलग है कि इस पर राजनीति शुरू हो गई है। राजनीति करने से नहीं चूक रहे ।
प्रधानमंत्री मोदी के इस कदम का असर उत्तराखंड में महसूस होने लगा है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि ब्रह्म कमल और उत्तराखंडी टोपी की पहचान राष्ट्रीय है। प्रधानमंत्री ने इसे पहना खुशी की बात है। उम्मीद है कि उन्होंने इसे सिर्फ राज्य में होने वाले चुनाव को ध्यान में रखकर नहीं पहना होगा। आगे भी यूं ही यह टोपी प्रधानमंत्री पहनना जारी रखेंगे।
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता सुरेश जोशी का कहना है कि पीएम ने उत्तराखंड की टोपी पहन कर उत्तराखंड के प्रति अपने जुड़ाव को प्रदर्शित किया है। उत्तराखंड पीएम के दिल मे रहता है, फिर चाहे वो यहाँ के विकास की बात हो या संस्कृति और परंपराओं का सम्मान।