छात्र की मौत में मौनकांडा विद्यालय के सहायक अध्यापक निलंबित।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून/चंपावत : प्राथमिक विद्यालय मौनकांडा में 14 सितंबर को शौचालय की छत गिरने से छात्र की मौत मामले में शिक्षा विभाग ने शुक्रवार को लापरवाही के आरोप में सहायक अध्यापक को निलंबित कर दिया। इस हादसे में पांच अन्य विद्यार्थी गंभीर रूप से घायल भी हुए थे।
जिलाधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी (सीईओ) को मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए थे। जांच में सहायक अध्यापक देवराम की लापरवाही सामने आई। सीईओ जितेंद्र सक्सेना ने बताया कि प्राथमिक जांच में अभिभावकों ने बताया कि सहायक अध्यापक और प्रधानाचार्य के बीच अक्सर तकरार होती रहती थी। वह अक्सर विद्यालय शराब पीकर आते थे। इससे बच्चे भी खुश नहीं थे। यही कारण है कि बच्चों ने घटना की जानकारी अध्यापकों की बजाय दौड़कर पास में ही रह रहे अपने अभिभावकों को दी। अभिभावकों ने भी इस घटना के लिए विद्यालय की लापरवाही को जिम्मेदार बताया। ऐसे में सहायक अध्यापक को निलंबित करके उपशिक्षा अधिकारी कार्यालय चंपावत में संबद्ध कर दिया गया है।