नहीं लग पाया लूट के आरोपित का सुराग।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून: स्टेट बैंक आफ इंडिया की शिमला बाइपास शाखा के बाहर व्यक्ति की आंखों में मिर्च डालकर 10 लाख रुपये की लूट करने वाले आरोपित का अब तक कोई पता नहीं लग पाया है। पुलिस की कई टीमें रात भर सर्च अभियान व सीसीटीवी कैमरे खंगालने पर लगी रही, लेकिन पुलिस को अब तक ऐसा कोई सुराग हाथ नहीं लग पाया है, जिससे पुलिस आरोपित के नजदीक पहुंच सके।
लूट की घटना के बाद पुलिस की विभिन्न टीमें आरोपित को पकड़ने में लगी हुई थी। कुछ टीमेंदे आरोपित के भागने वाले रूट पर सर्च कर रही थी तो कुछ टीमें आरोपित के आने व भागने वाले रूट पर सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाल रही थी। पुलिस की मानें तो आरोपित आने वाले रूट पर तो दिख रहा है, लेकिन भागने वाले रूट पर कुछ ही दूरी तक उसकी फुटेज मिली और इसके बाद फुटेज नहीं मिल पाई है। बताया जा रहा है कि आरोपित चंद्रबनी के रास्ते से पैदल ही फरार हुआ है।
गुरुवार शाम को बैंक से रुपये निकालकर ला रहे राधा कृष्ण नैनवाल व उनके पिता की आंखों में मिर्च डालकर आरोपित फरार हो गया था। आसपास के व्यक्तियों ने कुछ दूरी तक उसका पीछा किया,जहां वह सात लाख रुपये छोड़कर तीन लाख रुपये फरार हो गया। पुलिस सारी रात आरोपित की तलाश में जुटी रही लेकिन अभी तक आरोपित के बारे में कोई सुराग नहीं लग पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.