अब टनकपुर – बागेश्वर रेल लाइन जल्द शुरू,फाइनल लोकेशन सर्वे को मंजूरी।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/हल्द्वानी: रेल मंत्रालय द्वारा टनकपुर-बागेश्वर नई ब्राडगेज रेल लाईन  के फाईनल लोकेशन सर्वे को मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि रेल लाईन बनने से क्षेत्र में विकासात्मक गतिविधियां बढेंगी और लोगों को काफी  सुविधा मिलेगी।

जी हाँ, बागेश्वर वालों के लिए बागेश्वर – टनकपुर रेल लाइन की उम्मीद एक बार फिर से जग गयी है। लम्बे समय से या हम कहें अंग्रेजों के समय से प्रस्तावित इस परियोजना को शीघ्र पूरा करने के लिए शासन और प्रशासन और जनप्रतिनिधियों द्वारा काफी पहले से प्रयास किये जा रहे थे । इस रेल लाइन का पहला सर्वे वर्ष 1911-12 में अंग्रेजों के शासन में हो चुका था। आजादी के बाद वर्ष 2006 में इसका फिर से सर्वे कराया गया। सर्वे में महाकाली नदी के किनारे टनकपुर से बागेश्वर की दूरी 137 किमी बताई गई थी। इसमें 67 किमी लाइन भारत-नेपाल की अन्तरराष्ट्रीय सीमा के समानान्तर प्रस्तावित है। पिछले साल मुख्यमंत्री ने रेलमंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात कर रेल लाइन बिछाने की मांग किये जाने के बाद एक बार फिर उम्मीद जगने लगी थी।

और पढ़ें  मुख्यमंत्री ने किया कोरोना योद्धाओं को सम्मानित।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री और रेल मंत्री से नई दिल्ली में भेंट के दौरान विशेष रूप से 154.58 किमी की टनकपुर-बागेश्वर नई ब्राडगेज रेल लाईन  के फाईनल लोकेशन सर्वे का अनुरोध किया था। इसी क्रम में इसे मंजूरी दी गई है। फाईनल लोकेशन सर्वे के लिए 28.95 करोड़ रूपए की भी स्वीकृति दी गई है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.