चार धाम यात्रा के लिए इन शहरों के पोर्टल पर निशुल्क पंजीकरण एवं कोविड जांच सेंटर शुरू करने के आदेश।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

चारधाम यात्रा 2021

संवादसूत्र देहरादून: तीर्थयात्रियों की सुविधा हेतु चार धाम यात्रा के मुख्य पड़ाव हरिद्वार एवं ऋषिकेश में देहरादून स्मार्टसिटी पोर्टल पर निशुल्क पंजीकरण एवं कोविड जांच सेंटर शुरू करने के आदेश।

•गढ़वाल आयुक्त रविनाथ रमन ने आज जारी किये आदेश।

• चारधाम यात्रा टर्मिनल ऋषिकेश में अधिकारियों की बैठक

• यात्रा ब्यवस्थाओं को चाक चौबंद करने को कहा।

• कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कर सभी तीर्थ यात्री देव दर्शन कर ही वापस जायें।

• गढ़वाल आयुक्त ने जिला चमोली एवं जिला रूद्रप्रयाग के जिलाधिकारियों को तत्काल प्रभाव से सभी रूके हुए यात्रियों को कोविड जांच एवं पंजीकरण पश्चात धामों में दर्शन में हेतु भेजने के निर्देश दिये।

ऋषिकेश: 6 अक्टूबर। उत्तराखंड चारधाम यात्रा पर माननीय उच्च न्यायालय नैनीताल द्वारा कल यात्रा प्रतिबंधों में राहत दिये जाने के बाद उत्तराखंड सरकार द्वारा एसओपी जारी कर दी ।
आयुक्त गढ़वाल एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड श्री रविनाथ रमन द्वारा चारों धामों मे़ एसओपी के अनुपालन हेतु आदेश जारी किये। अब देहरादून स्मार्टसिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन एवं कोविड जांच ही जरूरी है तीर्थयात्रियों को ई-पास की कोई बाध्यता नहीं है।
आज ऋषिकेश चारधाम यात्रा टर्मिनल स्थित चारधाम यात्रा प्रशासन संगठन कार्यालय में चारधाम यात्रा के संबंध में अधिकारियों को निर्देशित करते हुए आयुक्त गढ़वाल ने कहा कि अब कोई भी तीर्थ यात्री जिनके पास स्मार्ट सिटी पोर्टल में रजिस्टेशन की जानकारी नहीं है वह ऋषिकेश एवं हरिद्वार रेल्वे स्टेशन एवं बस टर्मिनल पर निशुल्क अपना रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे तथा उनकी निशुल्क कोविड जांच भी की जायेगी। इसके लिए उन्होंने तत्काल प्रभाव से आज हरिद्वार एवं ऋषिकेश में रजिस्ट्रेशन सेंटर खोलने के आदेश जारी कर दिये है।
उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी चमोली, रूद्रप्रयाग एवं उत्तरकाशी को निर्देश दिए गये हैं कि पहले से दर्शन हेतु पहुंचे तीर्थयात्रियों गुप्तकाशी, फाटा, सोनप्रयाग एवं गौरीकुंड से कोविड जांच के बाद केदारनाथ दर्शन हेतु भेज दिया जाये। इसी तरह श्री बदरीनाथ धाम एवं श्री गंगोत्री एवं श्री यमुनोत्री में दर्शन हेतु तीर्थयात्री बेरोकटोक जाने हेतु जिलाधिकारियों को निर्देश दिये।
उन्होंने बैठक में परिवहन विभाग को यात्रा वाहनों के ग्रीन कार्ड, प्रदूषण, तथा वाहन संबंधित औपचारिकताओं को त्वरित गति से समाधान हेतु कहा। नगर निगम ऋषिकेष को चारधाम यात्रा बस टर्मिनल में साफ सफाई, सैनिटाईजेशन हेतु निर्देशित किया। इसी संयुक्त यात्रा रोटेशन से अपेक्षा की कि यात्रियों का सहयोग करें।
देवस्थानम बोर्ड को निर्देश दिया कि सीजनल सहायता डेस्क को अधिक सक्रिय किया जाये।
उल्लेखनीय है कि गढ़वाल आयुक्त की पहल पर ऋषिकेश यात्रा बस टर्मिनल पर चारधाम सीजनल सहायता डेस्क बनाये गये है जिसमें चिकित्सा विभाग, पुलिस प्रशासन, पर्यटन, देवस्थानम बोर्ड,नगर निगम,परिवहन विभाग, संयुक्त रोटेशन ने अपने हेल्प डेस्क लगाये हैं।
इस अवसर पर आयुक्त गढ़वाल
रविनाथ रमन के अलावा ऋषिकेश नगर निगमायुक्त जी.सी.गुणवंत,एआरटीओ अरविंद पाण्डेय, यात्रा प्रशासन संगठन के विशेष कार्याधिकारी ए.के.श्रीवास्तव, देवस्थानम बोर्ड के विशेष कार्याधिकारी जन संपर्क ए.एस.नेगी, सहायता अभियंता नगर निगम आनंद सिंह, डा.हरीश गौड़ आदि मौजूद रहे।

और पढ़ें  चारधाम पर बनेगा सीरियल।

तीर्थयात्रियों/ दर्शनार्थियों की संख्या
दिनांक 6 अक्टूबर , बुद्धवार
शायंकाल 4 बजे तक…..

(1) श्री बदरीनाथ धाम -1275
(2) श्री केदारनाथ धाम –
1589 ( हेली यात्री सहित)
(3) श्री गंगोत्री धाम- 376
(4) श्री यमुनोत्री धाम- 484
कुल दर्शनार्थियों की संख्या – 3707

18 सितंबर से 6 अक्टूबर तक
चारधाम पहुंचे संपूर्ण तीर्थ यात्रियों की
संख्या 46511 (छयालीस हजार पांच सौ ग्यारह )

और पढ़ें  डग्गामारी को रोकने के लिए मुख्य सचिव ने परिवहन विभाग को दिए निर्देश।

• दिनांक 1-5 अक्टूबर को हैलीकाप्टर से केदारनाथ पहुंचे तीर्थ यात्री – 1485
• श्री हेमकुंड साहिब जी /
श्री लोकपाल तीर्थ आज पहुंचे श्रद्धालु – 413

आवश्यक सूचना
चारधाम यात्रा हेतुअब http:// smartcitydehradun.uk.gov.in में तीर्थयात्री सीधे पंजीकरण करवा सकते हैं।
देवस्थानम बोर्ड की वेबसाइट पर ई पास बनाने की आवश्यकता नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *