प्रियंका ने भाजपा सरकार पर हमला बोला, कहा पांच साल में भाजपा ने हर वादे को तोड़ा है।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

सँवादसूत्र देहरादून: आज कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव एवं स्टार प्रचारक प्रियंका गांधी ने देहरादून में एक चुनावी जनसभा व वर्चुअल रैली को संबोधित किया। जिसमें उन्होंने चारधाम को नमन करके अपने संबोधन की शुरुआत की।

उन्होंने भाजपा सरकार पर हमला बोलकर निशाना साधते हुए कहा कि पांच साल में भाजपा ने हर वादे को तोड़ा है। और राज्य की महिलाएं महंगाई और समाज का बोझ उठा रही हैं। आशा और आंगनबाड़ी की महिलाएं परेशान हैं। किसान नौजवान और दलित परेशान हैं। कहा कि कांग्रेस के समय में उत्तराखंड में विकास हुआ है। भाजपा रोजगार की नहीं, केवल धर्म की बात कर रही है। कहा कि कांग्रेस जनता के लिए काम करना चाहती है।

प्रियंका गांधी ने कहा कि देश भर में गन्ने का बकाया 14,000 करोड़ रुपये है। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16,000 करोड़ रुपये में अपने लिए दो हेलीकॉप्टर खरीदे हैं। इन हेलीकॉप्टरों की कीमत पर बकाया राशि का भुगतान किया जा सकता था। लेकिन उन्होंने कहा की इसके बजाए दो हेलीकॉप्टर खरीदे। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने कोई काम नहीं किया। सिर्फ आप लोगों का पैसा बर्बाद किया है।

प्रियंका गांधी ने अपने परिवार का नाता देहरादून और उत्तराखंड से जोड़ा। उन्होंने कहा कि मेरे पिता, चाचा, मैं, मेरा भाई और मेरे बच्चे देहरादून में पढ़े हैं।जौलीग्रांट से सीधे प्रियंका गांधी दून स्कूल पहुंचीं। जहां प्रियंका गांधी के बेटे ने पढ़ाई की है। बुधवार को प्रियंका गांधी सुबह करीब दस बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचीं। यहां से वह देहरादून के लिए रवाना हो गईं। देहरादून पहुंचने पर कांग्रेसी नेताओं ने प्रियंका गांधी का स्वागत किया। बुधवार को प्रियंका पार्टी के घोषणापत्र ‘उत्तराखंडियत स्वाभिमान प्रतिज्ञा पत्र’ को भी जारी किया।

और पढ़ें  जंतर मंतर पर वन अधिकार एवं उत्तराखंड भू- क़ानून के सपोर्ट में एक दिवसीय सांकेतिक धरना।

दून के कैनाल रोड पर स्थित लग्जूरिया फार्म में पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में आयोजित होने वाली इस चुनावी जनसभा के लिए पार्टी की ओर से व्यापक तैयारियां की गई हैं। इसी रैली में प्रियंका गांधी पार्टी के घोषणा पत्र को भी जारी किया। इसके माध्यम से कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने पर किए जाने वाले कार्यों का ब्यौरा जनता के सम्मुख रखा गया है।

मेरे भाई भी यहीं पढे उत्तराखंड की भूमि के साथ हमारा पुराना नाता है।मेरे पिताजी मेरे चाचा जी मेरे भाई और मैं खुद यहीं से पड हैं।उसको देख कर खुश होते हैं हम हमेशा से यहां के प्रकृति और सुंदरता को देखकर खुश होते थे।

देवभूमि जिस तरह की सरकार चल रही है उसको देखकर दुख होता है, उन्होंने जितने बड़े-बड वादे अब ऐसा लगता था कि चलो कुछ आगे हो सकता है लेकिन इस सरकार ने जितने बड़े-बड़े वायदे किए उसमें से कुछ भी नहीं किया।5 सालों में जहां जहां मैं जाती हूं वहां बोलते हैं सभी कि पिछले 5 सालों में कुछ नहीं किया गया जो वायदे किए गए थे वह टूटे हैं। हां हमारी सरकार के दौरान जो काम हुआ था आज वही दिखाई दे रहा है।

और पढ़ें  स्वास्थ्य विभाग में जल्द होंगी 2920 रिक्त पदों पर भर्ती।

इस सरकार में जितना पैसा जितना धन विज्ञापनों में मैं दिख रहा है सिर्फ विज्ञापनों में ही पैसे खर्च हो रहे हैं लेकिन आपके लिए पैसे खर्च करने के लिए, इनके पास है नहीं।

आपसे इन्होंने डबल इंजन की बात कही लेकिन हालात आज यह है कि इनका ही डबल इंजन ठप हो गया है।आप जानती हैं कि कुछ भी हो महिला के पास महिला हर बोझ को उठाती है महिला के पास बहुत ज्यादा मौके नहीं होते हैं।

जब राजनीतिक पार्टी बात करती हैं तो महिलाओं की बात नहीं करती हैं।5 घंटे क्या आपको पता क्यों उत्तराखंड में हर 5 घंटे में एक महिला के साथ अत्याचार होता है। पहाड़ी जिलों में कितनी मुश्किल होती है स्वास्थ्य सेवाओं को मिलने पर।क्या किया इस सरकार ने आज आपके लिए क्या किया महिलाओं के लिए।उत्तराखंड में तमाम महिलाएं आज बेरोजगार हैं। आशा कार्यकत्रियों का मानदेय तक आज तक नहीं बढ़ाया गया है।

उत्तर प्रदेश में भी बहने खूब परेशान हैं, उनके उपर अत्याचार होता है। जब वह आवाज उठाती है तो उन्हें पीटा जाता है उन्हें जेल में डाला जाता है उनके ऊपर रासुका लगाया जाता है।

और पढ़ें  कुंभ में गैस का गुब्बारा फटने से तीन छात्र जख्मी,हालत गंभीर।

यह सरकार आपको कभी नहीं बताएगी कि रोजगार कैसे देंगे यह आपको यह नहीं बताएंगे कि 5 साल में आपको कितना रोजगार दे चुके हैं, क्योंकि इन्होंने रोजगार दिया ही नहीं है।

आपके जीवन में पिछले 5 सालों में भाजपा सरकार के दौरान आप आगे बढ़ पाए?मीडिया में नहीं देखेंगे, उन्होंने क्या किया उन्होंने अपने लिए दो हवाई जहाज खरीदे मीडिया में उनकी आलोचनाएं होती नहीं है। इसलिए आपको पता भी नहीं चलेगा।

कोविड-19 के दौरान हमारा दिल्ली में उत्तर प्रदेश के जो प्रवासी थे उन्हें भगवान भरोसे छोड़ दिया गया।हमारा देश दुनिया का सबसे बड़ा ऑक्सीजन पैदा करता है लेकिन जब उन्हें जरूरत थी तब आपने सिर्फ उसका निर्यात किया तो वैक्सीन का निर्यात किया।

कोई सुविधा नहीं सिर्फ महंगाई बढ़ रही है, आप कुछ खरीदना चाहते हैं तो वह खरीद नहीं सकते। अपने बच्चों को आप पढ़ा नहीं सकते, किसान अपने लिए कुछ कर नहीं सकता।

बड़े बड़े उद्योगों को सिर्फ बेचा जा रहा है वह भी कुछ गिने-चुने उद्योगपतियों को जो प्रधानमंत्री के करीबी दोस्त हैं।आज हीरे का दाम कम हो गया है और दवा का दाम बढ़ गया है।आज सिलेंडर हजार रुपए का हो गया है पहाड़ों में जाते जाते वह 2000 का हो जाता है।आज अपने हाथ को मांगने के लिए ही संघर्ष करना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.