दुःखद: हादसे में14 में से 13 लोगो की मौत की हुई पुष्टि , DNA जाँच से होगी शवों की पहचान , सरकार कल करेगी औपचारिक ऐलान।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

वरिष्‍ठ रक्षाधिकारियों को लेकर जा रहा सेना का हेलीकॉप्‍टर तमिलनाडु के नीलगिरि जिले में दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया है। इसमें 14 लोग सवार थे। सीडीएस बिपिन रावत भी इसमें पत्नी के साथ सवार थे। भारतीय वायु सेना ने 13 लोगों की मौत की पुष्टि कर दी है।वरिष्‍ठ रक्षाधिकारियों को लेकर जा रहा सेना का हेलीकॉप्‍टर तमिलनाडु के नीलगिरि जिले में दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया है। इसमें 14 लोग सवार थे।

सीडीएस बिपिन रावत भी इसमें पत्नी के साथ सवार थे। भारतीय वायु सेना ने 13 लोगों की मौत की पुष्टि कर दी है। एक का अस्पताल में इलाज चल रहा है। जानकारी के अनुसार, हादसा तमिलनाडु के कुन्नूर में हुआ। कुछ घायल लोगों को अस्‍पताल ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि हेलीकॉप्टर में आग लग गई थी। हादसे के पीछे की वजह क्या है इसके बारे में फिलहाल जानकारी नहीं है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इसकी जानकारी दे दी है। फिलहाल ये पता नहीं चल पाया है कि इस हादसे में हताहत कौन हुआ और एक कौन बचा है। शवों की पहचान के लिए डीएनए टेस्ट होगा। बताया जा रहा है कि हादसे पर पार्लियामेंट में सरकार कल बयान जारी करेगी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सीडीएस बिपिन रावत के दिल्ली स्थित घर पर गए। यहां पांच से सात मिनट रुकने के बाद वह अपने कार्यालय निकल गए। इसके बाद आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे भी जनरल बिपिन रावत के घर पहुंचे। वहीं वायुसेना अध्यक्ष एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी घटनास्थल के लिए रवाना हो गए

और पढ़ें  राज्य में सपा ने प्रत्याशियों की लिस्ट की जारी।

बताया जा रहा है कि खराब मौसम की वजह से ये हादसा हुआ है। इस हेलिकॉप्टर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत सवार थे। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, सीडीएस बिपिन रावत अपनी पत्नी के साथ ऊटी एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे, लेकिन कुन्नूर में घने जंगल में यह हादसा हो गया। ये हेलिकॉप्टर एमआई-सीरीज का था। इसमें सीडीएस बिपिन रावत, उनके कर्मचारी और परिवार के कुछ सदस्य सवार थे। स्थानीय लोग भी रेस्क्यू अभियान में मदद कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि जो शव मिले हैं, वे 80 फीसद तक जल चुके थे। ऐसे में उनकी पहचान नहीं हो पाई है।
इंडियन एयरफोर्स ने ट्विट कर दी जानकारी
इंडियन एयरफोर्स के ट्विटर हैंडिल में भी इसकी जानकारी दी गई है। इसमें कहा गया है कि- सीडीएस जनरल बिपिन रावत के साथ एक IAF Mi-17V5 हेलीकॉप्टर, तमिलनाडु के कुन्नूर के पास आज दुर्घटना का शिकार हो गया। हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए जांच के आदेश दे दिए गए हैं।
Mi सीरीज के हेलीकॉप्‍टर ने सुलुर (Sulur) आर्मी बेस से उड़ान भरी थी, इसके कुछ ही देर बाद यह नील‍गिरी में दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया। यह वेलिंगटन डिफेंस एस्‍टेब्लिशमेंट की ओर बढ़ रहा था।

और पढ़ें  माओवादी हमले में हुए शहीदों को दी श्रद्धांजलि।

स्‍थानीय टीवी चैनल पर दुर्घटनास्‍थल की तस्‍वीरों में गहरे धुएं और आग के साथ हेलीकॉप्‍टर के मलबा भी दिखाई दे रहा है। मौके पर बचाव और राहत कार्य जारी है, लेकिन जंगली इलाका होने की वजह से इसमें मुश्किलें आ रही हैं। स्‍थानीय लोगों और पुलिसकर्मियों द्वारा बॉडीज को ले जाया रहा है।
गौरतलब है कि 63 वर्षीय जनरल रावत ने जनवरी 2019 में देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्‍टाफ का कार्यभार संभाला यह पद देश की तीनों सेनाओं, थल सेना, नौसेना और वायुसेना को एकीकृत करने के उद्देश्‍य से सृजित किया गया बाद में उन्‍हे नवनिर्मित, डिपार्टमेंट आफ मिलिट्री अफेयर्स का भी प्रमुख नियुक्‍त किया गया।

और पढ़ें  "बघ्वा"

हेलिकॉप्टर में ये लोग सवार थे
1. जनरल बिपिन रावत
2. मधुलिका रावत
3. ब्रिगेडियर एलएस लिद्दर
4. ले. क. हरजिंदर सिंह
5. नायक गुरसेवक सिंह
6. नायक. जितेंद्र कुमार
7. लांस नायक विवेक कुमार
8. लांस नायक बी. साई तेजा
9. हवलदार सतपाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *