सरदार बल्लभ भाई पटेल की जयन्ती राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाई जाएगी : मनीषा पंवार।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून: अपर मुख्य सचिव वित, ग्राम्य विकास एवं नियोजन मनीषा पंवार की अध्यक्षता में सचिवालय में सरदार बल्लभ भाई पटेल की जयन्ती राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाये जाने के सम्बन्ध में बैठक आयोजित की गई।
बैठक में अपर मुख्य सचिव द्वारा निर्देश दिये गये की दिनांक 31 अक्टूबर, 2021 को राष्ट्रीय एकता दिवस को बड़े हर्षोल्लास से मनाने का निर्णय लिया गया है इसके लिये राजधानी देहरादून के पुलिस लाईन में परेड आयोजित की जायेगी तथा सभी वरिष्ठ अधिकारी सम्मिलित होंगे। इसी प्रकार जनपदों की पुलिस लाईन में परेड का आयोजन किया जायेगा तथा जिले के समस्त वरिष्ठ अधिकारी सम्मिलित होंगे। उक्त समारोह के उपरान्त सभी अधिकारियों कर्मचारियों तथा अन्य उपस्थित महानुभावों द्वारा शपथ ग्रहण कार्यक्रम में शपथ ग्रहण की जायेगी। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी जनपदों में March Past निकाला जायेगा। राजधानी देहरादून के साथ-साथ सभी जनपदों में साईकिल रैली/मोटर साईकिल रैली का भी आयोजन किया जायेगा। हरिद्वार / टिहरी गढ़वाल से साईकिल रैली/ मोटर साइकिल रैली प्रारम्भ होकर उसका समापन देहरादून में होगा तथा देहरादून में उनका स्वागत किया जायेगा एवं प्रशस्ति पत्र भी दिये जायेंगे। अतः इसके लिए अपेक्षित हैं कि जिलाधिकारी हरिद्वार एवं टिहरी गढ़वाल प्रतिभागियों की सूची उपलब्ध करा दें ताकि प्रशस्ति पत्र तैयार करवा कर वितरित किये जा सकें।
अपर मुख्य सचिव श्रीमती मनीषा पंवार ने निर्देश दिये कि इस वर्ष आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है इसके साथ इस कार्यक्रम को भी सम्मिलित कर आयोजन किये जायें एवं निबन्ध प्रतियोगिता वाद-विवाद प्रतियोगिता तथा इसी प्रकार अन्य कार्यक्रमों पर भी विचार कर लिया जाये। जनपदों में राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देने से सम्बन्धित कार्यक्रमों का आयोजन किया जाये। इसके साथ ही उन्होंने निर्देश दिये कि सभी कार्यक्रमों में कोविड-19 से सम्बन्धित दिशा-निर्देशों का पालन किया जाये।
बैठक में सचिव (प्रभारी) सामान्य प्रशासन विभाग, श्री विनोद कुमार सुमन द्वारा बताया गया कि प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी 31 अक्टूबर, 2021 को सरदार बल्लभ भाई पटेल की जयन्ती राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में बड़े हर्षोल्लास के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा एवं एकता अखण्डता को बनाये रखने के प्रति प्रतिबद्धता के रूप में मनाये जाने का निर्णय लिया गया है, यह वर्ष देश की आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में भी मनाया जा रहा हैं।
बैठक में पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार, आई.जी. पुलिस मुख्यालय ए.पी.अंशुमान, अपर सचिव गृह विभाग श्रीमती रिद्धिम अग्रवाल, अपर सचिव युवा कल्याण श्री जी.एस.रावत के साथ ही वीडियो कान्फ्रेन्स के माध्यम से समस्त जिलाधिकारियों, एस.एस.पी/एस.पी. आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.