18 साल से फरार चल रहे इनामी बदमाश को एसटीएफ ने दिल्ली से किया गिरफ्तार।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


सँवादसूत्र देहरादून: उत्तराखंड पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने हरिद्वार में डकैती का इनामी बदमाश को दिल्ली से गिरफ्तार किया है। एसटीएफ ने बताया कि वह पिछले 18 सालों से फरार चल रहा था। उस पर 10 हजार रुपये का इनाम था।

हरिद्वार में डकैती की वारदात काे अंजाम देने वाले बदमाश शकील उर्फ पहलवान निवासी शाहपुर मुजफ्फरनगर को उत्तराखंड पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स दिल्ली से गिरफ्तार किया है। पिछले 18 सालों से फरार चल रहा था, जिसके ऊपर 10 हजार रुपये का इनाम था।

और पढ़ें  डीफार्मा छात्रा की हत्या का आरोपी हुआ गिरफ्तार।

एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि 10 अक्टूबर 2004 को अपराधी शकील उर्फ पहलवान ने अपने साथियों के साथ मिलकर हरिद्वार कस्बा मंगलौर में मोहम्मद सजर के घर मे तमंचा और चाकू से लैस होकर नकदी, जेवरात आदि सामान लूट कर ले गए थे। इस मामले में थाना मंगलौर में मुकदमा दर्ज किया गया था।
घटना में शामिल सात अपराधियों में से पांच की गिरफ्तारी हो चुकी थी, जबकि एक बदमाश मुठभेड़ में मारा गया था । शकील उर्फ पहलवान तभी से इस मुकदमे में फरार चल रहा था। शकील उर्फ पहलवान के फरार रहने के कारण वर्ष 2008 में उसके घर की कुर्की की जा चुकी है। शकील उर्फ पहलवार शातिर किस्म का अपराधी है, जिाके खिलाफ पूर्व में भी दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश आदि राज्यों में लूट व आर्म्स एक्ट के अंतर्गत कई मुकदमे दर्ज हैं। शकील उर्फ पहलवान का एक अन्य साथी नौशाद उर्फ छोटा निवासी सरधना मेरठ जोकि शकील के साथ कई आपराधिक वारदातों में संलिप्त था, 22 मार्च 2005 के दौरान मुजफ्फरनगर में मुठभेड़ में मारा गया था। वर्ष 2021 में जिला मुजफ्फरनगर में पुलिस मुठभेड़ के दौरान बदमाश शकील उर्फ पहलवान पैर में गोली लगने से घायल हो गया था।