सीएयू के सचिव सहित सात के खिलाफ मुकदमा।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून: उत्तराखंड क्रिकेट टीम के खिलाड़ी की पिटाई करने, जान से मारने की धमकी देने और जबरदस्ती वसूली करने के आरोप में वसंत विहार थाना पुलिस ने क्रिकेट एसोसिएशन आफ उत्तराखंड (सीएयू) के सचिव सहित टीम मैनेजर, प्रवक्ता, वीडियो एनालिसिस सहित सात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। एसएसपी के निर्देश पर यह मुकदमा दर्ज किया गया है।
पुलिस को दी तहरीर में इंदिरा नगर कालोनी वसंत विहार निवासी विरेंद्र सेठी ने बताया कि उनका बेटा आर्य सेठी विजय हजारे क्रिकेट टीम व उत्तराखंड क्रिकेट टीम में सदस्य है । आरोप है कि 11 दिसंबर 2021 को ट्रेनिंग के दौरान सीनियर पुरुष टीम के कोच मनीष झा ने आर्य सेठी की पिटाई की। जब घटना की शिकायत महीम वर्मा से की गई तो उन्होंने इस संबंध में टीम मैनेजर नवनीत मिश्रा, कोच मनीष झा और वीडियो एनालिसिस पीयूष रघुवंशी से बात की।
आराेप है कि तीनों ने आर्य सेठी को कमरे में बुलाया और धमकी दी कि वह उसे गोली मरवा देंगे। शिकायतकर्ता ने यह भी आरोप लगाया है कि जब उन्होंने इस घटना के संबंध में सीएयू के सचिव महीम वर्मा से बात की तो उन्होंने कहा कि मामला सुलझाने के लिए 10 लाख रुपये देने पड़ेंगे, नहीं तो आर्य सेठी का कैरियर खराब कर देंगे। यही बात सीएयू में कार्यरत सत्यम वर्मा, पीयूष रघुवंशी, नवनीत मिश्रा, सीएयू के प्रवक्ता संजय गुसांई और पारुल ने भी कही।
विरेंद्र सेठी ने बताया कि वह विधायक हरबंश कपूर की अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए अपने मित्र रवि सैनी के साथ उनके घर गए। वहां महीम वर्मा भी मौजूद थे। उन्होंने महीम वर्मा से अपने बेटे के भविष्य को लेकर दोबारा निवेदन किया गया लेकिन उन्होंने फिर 10 लाख रुपये की मांग की। इसके बाद उनके साथ गाली गलौच की। जब उन्होंने इसका विरोध किया तो वह मारपीट करने पर उतारु हो गए और जान से मारने की धमकी दी। वसंत विहार थाने के थानाध्यक्ष ने बताया कि जांच के बाद एसएसपी के निर्देश पर सीएयू के सचिव सहित सात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।