एएमपी उत्तराखंड में भी करेगा नेशनल टैलेंट सर्च एग्जाम।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून: देश के 20,000+ स्कूलों और 5,000+ कॉलेजों के 5 लाख छात्र इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगे। स्टेट हेड मोहम्मद वसीम फातेह ने बताया कि यह देश के सबसे बड़े ऑनलाइन प्रतियोगिताओं में से एक होगी जिसमें 5 लाख छात्र हिस्सा लेंगे।

एसोसिएशन ऑफ मुस्लिम प्रोफेशनल्स (एएमपी) एक विशेष रूप से डिजाइन किए गए मोबाइल ऐप (चैम्पियन) पर अपने दूसरे नेशनल टैलेंट सर्च 2021 का आयोजन करेगी। यह राष्ट्रीय प्रतियोगिता छात्रों की सामान्य जागरूकता और प्रतिस्पर्धात्मक भावना को बढ़ाने और पुरस्कृत करने एवम सर्वश्रेष्ठ और प्रतिभाशाली छात्रों की पहचान करने के इरादे से आयोजित की जा रही है।

आयोजकों ने कहा कि इस साल व पूरे भारत के 20,000+ स्कूलों और 5,000+ कॉलेजों के 5 लाख छात्रों की रिकॉर्ड तोड़ भागीदारी की आशा कर रहे हैं। यह देश के सबसे बड़े ऑनलाइन आयोजनों में से एक होगा।

और पढ़ें  उत्तराखंड की पहाड़ियों पर हुई भारी बर्फ़बारी

नवाब मलिक, कैबिनेट मंत्री – महाराष्ट्र सरकार ने नेशनल एजुकेशन डे के दिन इस प्रतियोगिता के पोस्टर और मोबाइल ऐप का विमोचन मुंबई में आयोजित एक रंगारंग प्रोग्राम में किया। साथ ही साथ समुदाय की प्रभावशाली हस्तियों के हाथों पूरे भारत में 100 से अधिक अनावरण कार्यक्रम आयोजित किए गए।

नेशनल टैलेंट सर्च टीम के प्रमुख प्रो. खलील अहमद ने प्रतियोगिता का विवरण देते हुए कहा कि प्रतियोगिता 3 श्रेणियों में आयोजित की जाएगी:
रविवार, 12 दिसंबर 2021 – सीनियर/डिग्री कॉलेज (स्नातक)
रविवार, 19 दिसंबर 2021 – स्कूल (8वीं, 9वीं और 10वीं कक्षा)
रविवार, 26 दिसंबर 2021 – जूनियर कॉलेज (11वीं और 12वीं कक्षा)

छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए AMP ₹5 लाख+ के नकद पुरस्कार और छात्रों के लिए अतिरिक्त सहायता के साथ-साथ ₹20 लाख+ की छात्रवृत्ति प्रदान कर रहा है।

और पढ़ें  वनाग्नि रोकने के लिये हो समेकित प्रयास।

इस प्रतियोगिता की विशिष्टता यह है कि स्कूल, कॉलेज, एनआईओएस, आईटीआई, डिप्लोमा छात्रों के साथ; यहां तक कि 13 से 15 वर्ष की आयु के मदरसा के छात्र भी राष्ट्रीय प्रतिभा खोज में भाग ले सकते हैं।

इस वर्ष 2021 में राष्ट्रीय प्रतिभा खोज प्रतियोगिता का आयोजन विशेष रूप से डिजाइन किए गए मोबाइल एप पर किया जा रहा है, जिसका नाम है – चैंपियन।

पंजीकरण की प्रक्रिया:️
चैम्पियन ऐप को गूगल प्लेस्टोर से डाउनलोड करें 
अपने व्यक्तिगत विवरण के साथ ऐप में साइन-अप करें
छात्र पंजीकरण टैब भरकर एनटीएस के लिए पंजीकरण करें

एमपी के अध्यक्ष आमिर इदरीसी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यह मोबाइल है आप ना सिर्फ एग्जाम के लिए इस्तेमाल होगा बल्कि इसके जरिए आने वाले दिनों में छात्रों और शिक्षकों को करियर गाइडेंस, स्कॉलरशिप गाइडेंस, मेंटरशिप और एडमिशन में भी मदद की जाएगी।

और पढ़ें  कोरोना से अधिक खतरनाक है जातीय और साम्प्र्दायिक ज़हर : दुष्यंत

उत्तराखंड स्टेट हैड मोहम्मद वसीम फतेह ने स्कूलों और कॉलेजों से यह निवेदन किया कि वह अपने ज्यादा से ज्यादा छात्रों को इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए प्रोत्साहित करें। इस प्रतियोगिता के जरिए स्कूल और कॉलेज की कोशिशों को भी सराहा जाएगा।

लखनऊ की ग्रेविटी क्लासेस इस प्रतियोगिता की टाइटल स्पॉन्सर है जबकि कर्नाटका से शाहीन ग्रुप, तेलंगाना से एमएस अकैडमी और बेंगलुरु से बेरीस ग्रुप इस प्रतियोगिता के को स्पॉन्सर्स हैं।
 
कार्यक्रम के बारे में अधिक जानकारी ​इस वेबसाइट से लें: 
www.ampindia.org/National_talent_search
 
एएमपी एक दशक से भी अधिक समय से कम्युनिटी और देश के लिए शिक्षा सहायता, रोजगार सहायता और इकनोमिक इंपोवेर्मेंट के क्षेत्र में काम कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *