नाले में बही स्कूल बस,चालक-परिचालक ने शीशा तोड़कर बचाई जान।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/टनकपुर(चम्पावत) : बच्चों को लेने जा रही एमडीएम स्कूल की बस किरोड़ा नाले में गिर गई। बस के आगे का शीशा टूटने के बाद चालक-परिचालक ने बाहर निकलकर जान बचाई। गनीमत रही की बस में छात्र-छात्राएं नहीं थी, अन्यथा बड़ी घटना हो सकती थी।
मंगलवार सुबह 6:25 बजे एमडीएम स्कूल की बस बच्चों को लेने थ्वालखेड़ा जा रही थी। इस बीच पहाड़ों की ओर हो रही वर्षा से टनकपुर-पूर्णागिरि मार्ग पर किरोड़ा नाला उफान पर आ गया। स्कूल प्रबंधक धर्मेंद्र चंद्र को सूचना मिली कि नाला में पानी बढ़ रहा है तो उन्होंने चालक को वापस आने को कहा। चालक बिना बच्चों को लिए वापस आ रहा था। लौटते समय नाले के किनारे पर बस तेज बहाव की चपेट में आकर लुढ़क गई। बस में चालक कमलेश सार्की व परिचालक योगेश पंत ही थे। बस के गिरते ही आगे का शीशा टूट गया। जिससे दोनों बाहर निकल आए। दोनों को चोट आई है। जिन्हे उप जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चालक ने बताया कि पानी के वेग को देख वह घबरा गया था।बस का एक पहिया नाले के नीचे चला गया। जिससे बस गिर गई।
सूचना मिलने पर पुलिस एसडीआरएफ और फायर बिग्रेड की टीम पहुंच गई। क्रेन से बस को निकाला गया। एक यात्री की कार भी बीच में फंसी हुई है। पूर्णागिरि जाने वाले श्रद्धालु भी किरोड़ा नाले के पास फंसे हुए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.