मुख्य सचिव ने अधिकारियों को गढ़वाल एवं कुमाऊं को जोड़ने वाले मार्गों को विकसित करने के दिये निर्देश।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून : मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने गुरुवार को सचिवालय स्थित अपने सभागार में पर्यटन एवं लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ मानसखण्ड कॉरिडोर विकसित करने एवं रोप-वे निर्माण परियोजनाओं के चिन्हीकरण एवं क्रियान्वयन के सम्बन्ध में बैठक ली। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि मानसखण्ड कॉरिडोर के अन्तर्गत कुमाऊं मंडल में स्थित महत्त्वपूर्ण मंदिरों को जोड़ने हेतु अच्छी गुणवत्ता की सड़कों के निर्माण हेतु प्रस्ताव तैयार किया जाए। उन्होंने इसमें पर्यटन की दृष्टि से विकसित किए जा सकने वाले क्षेत्रों को भी शामिल करने के निर्देश दिए।

और पढ़ें  सुखद: लगातार घट रही संक्रमितों की संख्या, आज 1156 नये मामले सामने आये।

मुख्य सचिव ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि गढ़वाल एवं कुमाऊं की कनेक्टिविटी को बढ़ाने के क्षेत्र में भी कार्य किया जाए। प्रदेश की ऐसे सभी मार्गों, जिनसे गढ़वाल एवं कुमाऊं को जोड़ा जा सके, को विकसित करने हेतु भी कार्ययोजना तैयार की जाए। इसके साथ ही, मुख्य सचिव ने पर्यटन की दृष्टि से प्रदेश को विकसित किए जाने हेतु रोप- वे विकसित करने की आवश्यकता बताई। इसके लिए उन्होंने पर्वतमाला योजना के अन्तर्गत गढ़वाल एवं कुमाऊं क्षेत्र में रोप-वे निर्माण की सम्भावनाओं को तलाशते हुए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

और पढ़ें  जिलाधिकारी ने अधिकारियों को दिए यात्रा व्यवस्था चाक-चौबंद करने के निर्देश।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव लो.नि.वि. श्री आर.के. सुधांशु एवं सचिव पर्यटन श्री दिलीप जावलकर सहित अन्य उच्चाधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.