पटरी पर लौटने लगी डाडा जलालपुर के ग्रामीणों की दिनचर्या।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/ रुड़की: डाडा जलालपुर गांव में हनुमान जयंती के मौके पर निकाली गई शोभायात्रा पर 16 अप्रैल हुए पथराव एवं अागजनी के बाद से गांव में बना हुआ तनाव अब कम होना शुरू हो गया है। अब तक इस मामले में 14 आरोपितों की गिरफ्तारी हो चुकी है। पुलिस प्रशासन गांव में शांति बनाने के लिए प्रयास किए जा रहे है। इस मौसम में कृषि कार्य अधिक होने के चलते किसान भी अब खेतों में फसल को समेटने में लग गए हैं। गेहूं की थ्रेसिंग चल रही है। साथ ही गांव की जिन गलियों में सन्नाटा बना हुआ था, अब अब दूर होना शुरू हो गया है। गांव की अधिकांश दुकानें भी अब खुलना शुरू हो गई है। स्कूलों में भी बुधवार की तुलना में अधिक चहल-पहल शुरू हो गई है। गांव के ऋषिपाल, रमेशचंद और प्रेमचंद सैनी आदि ने बताया कि अब गांव का माहौल सामान्य हो रहा है। सभी को चाहिए कि वह भाई चारा बनाए रखे। वहीं थानाध्यक्ष पीडी भट्ट ने बताया कि शेष आरोपितों की तलाश में पुलिस टीम लगातार दबिश दे रही है। एहतियात के तौर पर गांव में पुलिस बल है।

और पढ़ें  चम्पावत में जीतने के इरादे से लड़ेंगे चुनाव: माहरा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.