समान नागरिक कानून हेतु हरिद्वार के वरिष्ठ संतो से मिले भारत सरकार द्वारा बनाई समिति के प्रतिनिधिमंडल।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/हरिद्वार: हरिद्वार राज्य अतिथि गृह डाम कोठी में आज समान नागरिक कानून को लेकर भारत सरकार द्वारा बनाई हुई समिति के सदस्य शत्रुघ्न सिंह पूर्व आईएएस श्री मनोज गौड़ एवं दून विश्वविद्यालय की कुलपति श्रीमती सुरेखा डंगवाल ने आज हरिद्वार के वरिष्ठ संतो के साथ मीटिंग कर समान नागरिक कानून बनाए जाने संबंधित सुझाव परामर्श लिया अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री रविंद्र पुरी के साथ श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा के वरिष्ठ महामंडलेश्वर स्वामी यतींद्र आनंद गिरि जी महाराज महामंडलेश्वर ललित आनंद गिरी महेश्वरी आदि अनेक हरिद्वार के प्रमुख संत इस बैठक में सम्मिलित हुए जूना अखाड़ा के वरिष्ठ महामंत्री स्वर स्वामी यतींद्र आनंद गिरि महाराज ने कहा पूरे देश में एक ही नागरिकता एक ही कानून लागू होना चाहिए सभी के समान कर्तव्य और अधिकार होने चाहिए स्वामी यतींद्र आनंद गिरि जी ने कहा उत्तराखंड पवित्र देवभूमि है संपूर्ण विश्व की आस्था श्रद्धा का केंद्र है सनातन हिंदू संस्कृति सभ्यता कि यह आत्मा है देवभूमि उत्तराखंड सनातन हिंदू धर्मावलंबियों के लिए सुरक्षित होनी चाहिए सनातन हिंदू धर्म संस्कृति के आस्था व श्रद्धा के केंद्र पवित्र तीर्थ स्थल श्री बद्रीनाथ केदारनाथ जागेश्वर महादेव गंगोत्री यमुनोत्री पवित्र हरिद्वार ऋषिकेश जैसे तीर्थ क्षेत्र उत्तराखंड की जागृत देवी नंदा देवी का स्थान भारत के चार सनातन पीठों में से ज्योतिष पीठ उत्तर उत्तराखंड में हैं उत्तराखंड का प्रवेश द्वार हरिद्वार हरिद्वार की पवित्रता को ब्रिटिश गवर्नमेंट ने भी बरकरार रखा कानून मे यह प्रावधान होना चाहिए उत्तराखंड सनातन हिंदू संस्कृति परंपरा हिंदू धर्मावलंबियों के लिए सुरक्षित होनी चाहिए अन्य धर्मों के लोग बड़ी मात्रा में उत्तराखंड में घुसपैठ कर रहे हैं जिससे देव भूमि उत्तराखंड के स्वरूप में आने वाले समय में समस्या आ सकती है अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्री रविंद्र पुरी ने अखाड़ों की परंपरा गुरु शिष्य परंपरा तथा साधु-संतों के सम्मान की रक्षा कानून में होनी चाहिए।