भाजपा के वरिष्ठ नेता मोहन लाल बौंठियाल का निधन।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

सँवादसूत्र देहरादून: दुगड्डा, कोटद्वार के निवासी भाजपा के वरिष्ठ नेता मोहन लाल बौंठियाल का निधन हो गया है। वह लम्बे समय से गंभीर बीमारी से जूझ रहे थे। बौंठियाल अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं। उनके दो पुत्र और एक पुत्री हैं। पुत्री सुश्री ज्योत्सना उत्तराखण्ड की वरिष्ठ पत्रकार हैं। चुनाव से ऐनपूर्व बौंठियाल के निधन से भाजपा को बड़ा झटका लगा है।

मोहनलाल बौठियाल उत्तराखण्ड में बीजेपी ये संस्थापको में से एक थे। सन 1958 में वह बाल स्वयं सेवक के तौर पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़ गए थे। 1960 में वह जनसंघ से जुड़े। इसके बाद 1980 में भाजपा के सदस्य बने। उस वक्त उन्हें सीधे जिला महामंत्री (गढ़वाल) का महत्वपूर्ण दायित्व सौंपा गया। उन्होंने उत्तराखण्ड में भाजपा को एक पार्टी के तौर पर खड़ा करने के लिए सालों साल कठिन परिश्रम किया। इस दौरान पार्टी संगठन के कई महत्वपूर्ण पदों की जिम्मेदारी उन्होंने बखूबी निभाई। सरकार में भी उन्हें कई अहम दायित्व सौंपे गए। वर्ष 1998 से 2000 तक वह पर्वतीय विकास परिषद उत्तर प्रदेश के सदस्य, 2008 से 2010 तक वन विकास निगम उत्तराखण्ड के अध्यक्ष (मंत्री दर्जा) व वर्ष 2010 से 2012 तक जलागम प्रबंध अनुश्रवण विकास परिषद के अध्यक्ष (मंत्री दर्जा) रहे।