जंगलों की आग ने अब गांव की तरफ किया रुख, मवेशी आये चपेट में।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

टिहरी: उत्तराखंड मे इन दिनों भीषंण आग का कहर जारी है,, गांव के गांव व जंगल के जंगल इस भयंकर आग की चपेट मे आने के कारण वन्य जीवों के साथ साथ पालतू मवेशियों व ग्रामीणों का जन जीवन अस्त व्यस्त है राजधानी देहरादून की सीमा से लगता सबसे नजदीकी पहाडी ब्लाक एवं विधान सभा यमकेश्वर के जंगलों से उडता धुवां व जल रही वन संपदा अग्नि कांड की घटनाओं से बुरी तरह प्रभावित है।
समाज सेवी पूर्व सैनिक क्षेत्र पंचायत सदस्य सुदेश भट्ट ने बताया कि यमकेश्वर ब्लाक के अंतर्गत ढांगु पट्टी की ग्राम सभा जोग्यांणा के काटल तोक मे हरपाल सिंह पुत्र स्वर्गीय रघुवीर सिंह की गौशाला आग की लपटों में कर जल कर खाक हो गयी गौशाला के अंदर बंधी एक गाय व एक बैळ जलकर राख हो गयी जबकि दुसरा बैळ किसी तरह खुंटा उखाड कर जान बचाने मे सफल रहा इस हृदय विदारक घटना से हरपाल सिंह सहित समस्त ग्रामीण अत्यधिक ब्यथित हैं, सुदेश भट्ट के अनुसार इतनी बडी घटना के बाद भी शासन प्रशासन व विभाग द्वारा पीड़ित परिवार के प्रति ना ही कोई सहानुभूति दर्ज की गयी व ना ही कोई इस घटना का आकलन करने घटना स्थल पर पहुंचा जिससे ग्रामीणों मे आक्रोश है सुदेश भट्ट व स्थानीय ग्रामीणों ध्यान सिंह बिष्ट, कलम सिंह, मोहन सिंह, प्रेम सिंह, शिव सिंह, श्रुमान सिंह, कल्यांण सिंह, उमेश सिंह, संदीप सिंह, मुकेश सिंह, प्रदीप, सुमित, विरेंद्र सिंह बिष्ट महिमानंद भट्टकोटी जी ने अग्नि कांड से हरपाल सिंह को हुई भरपाई के लिये सरकार से दस लाख की धन राशि उपलब्ध करा पिडित परिवार को मुवावजा देने की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *