पूर्व सीएम हरीश रावत ने स्वर कोकिला को इस तरह दी श्रद्धांजली।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

सँवादसूत्र देहरादून: उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत ने स्वर कोकिला भारत रत्न लता मंगेशकर के निधन को देश, कला संस्कृति के लिए अपूरणीय क्षति बताया। श्रद्धांजलि देते हुए रावत ने कहा कि वह चुनाव प्रचार में लता के सम्मान में गुलदस्ता व माला स्वीकार नही करेंगे। उन्होंने कहा कि स्वर कोकिला जिन्होंने अपने कंठ स्वर से करोड़ों-करोड़ों लोगों को वर्षों तक मुग्ध किया। “ए मेरे वतन के लोगों, जरा आंख में भर लो पानी” उनका अमर गीत है।

और पढ़ें  दिनेश उनियाल ने यूक्रेन में फंसे हुए छात्रों की वापसी पर सीएम धामी का किया आभार व्यक्त।

उन्होंने कहा कि आज जब स्वर कोकिला, भारत रत्न लता मंगेशकर नहीं रही हैं तो हर भारतवासी की आखों में आज पानी भर आया है दुनिया के अंदर न जाने ऐसे करोड़ों लोगों हैं जिन्होंने उनके कंठ स्वर को आनंदित होकर सुना है। उन सबकी आंखें इस समय नम हैं। आंखों में पानी भरा हुआ है, मैं भी बहुत दु:ख भरे शब्दों में उनको अपने श्रद्धासुमन अर्पित कर रहा हूंँ। रावत ने कहा कि लता जी आप अमर रहे, आपके गीत, आपके कंठ स्वर अमर रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.