उपनल कर्मियों को कैबिनेट ने दी सौगात।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून– आज सम्पन्न हुई कैबिनेट की बैठक में 29 प्रस्ताव सामने आए, जिसमे उपनल कर्मियों को मुख्यमंत्री से मिली सौगात, जिसमे 10 साल सेवा से वालों को 3000 और 10 साल से नीचे वालों को ₹2000 मानदेय में वृद्धि की गई है, आपको बता दें पिछले लंबे समय से उपनल कर्मी इसको लेकर आंदोलनरत थे,पिछले कैबिनेट बैठक में भी इस मुद्दे को लाया जाना था,लेकिन वित्त विभाग द्वारा अड़ंगा लगाए जाने के चलते यह मामला कैबिनेट में पेश नहीं हो पाया।

और पढ़ें  दिनेश उनियाल ने यूक्रेन में फंसे हुए छात्रों की वापसी पर सीएम धामी का किया आभार व्यक्त।

मंत्री हरक सिंह रावत और मंत्री गणेश जोशी ने इस मुद्दे पर आपत्ति जताई थी,जिसके बाद आज इस मसले पर फैसला हो गया।

साथ ही केबिनेट बैठक में 29 प्रस्ताव आये कैबिनेट ,कैबिनेट बैठक के फैसलों की जानकारी शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने दिया,आशा कार्यकत्रियों के मानदेय में 1000 की वृद्धि, प्रोत्साहन राशि 500 की विधि की गई है,6500 रुपये मानदेय आशा कार्यकत्रियों को हर महीने मिलेंगे,सोमेश्वर अस्पताल को मुख्यमंत्री की घोषणा के तहत किया जाएगा उच्चीकृत, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के मानदेय वृद्धि फैसला मुख्यमंत्री पर छोड़ा गया, परिवहन विभाग के दो प्रस्ताव वापस लिए गए है, विधायक निधि में 2 प्रतिशत कन्टेजेन्सी को 1 प्रतिशत किया गया,उपनल कर्मचारियों के वेतन में हर वर्ष होगी बढ़ोत्तरी,10 साल से कम सेवा व 10 साल से अधिक सेवा वाले कर्मचारियों के लिए हुए नियम निर्धारित, धान की क्रय नीति हुई पास, धान कॉमन का मूल्य 1960 हुआ निर्धारित, चमोली में 757 नाली का मूल्य आईटीबीपी के पक्ष अमल दरामद मयूटीशियन करने का निर्णय, 500 पंचायत भवनों को बनाने के लिए 20 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया।।

और पढ़ें  सवाड़ के वीरों की इस धरती को नमन:सीएम

सीएम की घोषणा के अनुसार ग्राम प्रधानों का मान देय 1500 बढ़ाकर 3500 किया गया।। राजकीय विधायलो महाविद्यालयो में पढ़ने वाले 159015 लाभार्थियों को टेबलेट्स दिए जाने के लिए कमेटी का गठन, न्यायलयों में सहायक स्टेनोग्राफर 65 पड़ आउट सोर्स से लिये जाएंगे जाने का निर्णय, चिकित्सा विभाग पुरुष महिला सेवा नियमावली में किया गया संशोधन, बर्न यूनिट के लिए 35 पदों को दून मेडिकल कॉलेज में रखे जाने को कैबिनेट से मिली मंजूरी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.