चारधाम यात्रा को लेकर सरकार ने SOP की जारी।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

चार धाम श्री बद्रीनाथ, श्री केदारनाथ, श्री यमुनोत्री एवं श्री गंगोत्री हिन्दू सनातन धर्म के पवित्र एवं पूज्यनीय धाम है। उक्त धाम सांस्कृतिक एवं धार्मिक महत्व के साथ-साथ राज्य की अर्थव्यवस्था की रीढ़ भी हैं। उक्त धामों में की जाने वाली यात्रा से राज्य के साथ-साथ अन्य राज्यों के लाखों लोगों को प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार प्रदान करती है। वर्ष 2017 में 2192664 वर्ष 2018 में 2622325 वर्ष 2019 में 3169902 एवं वर्ष 2020 में पूरे देश में कोविड कर्फ्यू के दृष्टिगत माह जून में यात्रा प्रारम्भ हुयी एवं 321609 यात्रियों द्वारा उक्त चामों के दर्शन किये गये। यह मानक प्रचालन विधि (SOP) बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री एवं यमुनोत्री की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं / यात्रियों आवासीय व्यवस्था संचालकों एवं अन्य हितग्राहियों को कोविड-19 के संक्रमण से सुरक्षित रखते हुए यात्रा सम्पादित करने के प्रयोजन हेतु निर्गत की जा रही है। इस मानक प्रचालन विधि (SOP) का सभी हितग्राहियों यथा चार धाम यात्रा से सम्बन्धित सरकारी विभाग एजेंसियां, ट्रैवल टूर ऑपरेटर आवासीय सुविधा, रेस्टोरेट चिकित्सा सेवा प्रदाता श्रद्धालु / यात्री तथा धामों से सम्बन्धित सभी हितधारकों द्वारा अक्षरशः अनुपालन किया जाना अनिवार्य होगा।

और पढ़ें  जून से शुरू होगी आदि कैलास यात्रा,श्रद्धालु कर पाएंगे ऊं पर्वत के दर्शन।

1 2021 में चार धाम यात्रा के संचालन की रणनीति ,चार धाम यात्रा के आयोजन निर्णय के साथ यात्रा के सुरक्षित संचालन के लिए निम्न

कार्ययोजना निर्धारित की जाती है:

• सभी यात्रियों / हितग्राहियों द्वारा COVID प्रोटोकॉल और COVID उपर्युक्त व्यवहार • बफर जोन की पहचान और गहन टीकाकरण द्वारा आबादी का संरक्षण करना,

• अग्रिम पंक्ति की गतिविधियों में लगे सभी कर्मचारियों की टीकाकरण द्वारा सुरक्षा

और पढ़ें  अब मंदिर समिति की भी सुरक्षित यात्रा पर नजर।

COVID वहन क्षमता आधारित यात्रा संचालन

• प्रभावी प्रवर्तन और निगरानी तंत्र

(ii) कार्ययोजना के मुख्य बिंदुः

क. देहरादून में जिला स्तर और राज्य स्तर पर नियंत्रण कक्ष स्थापित करना

• धाम के प्रत्येक जिले में नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं। नियंत्रण कक्ष COVID रिपोर्टिंग के लिए एक डेस्क पर तीर्थयात्रियों के दैनिक रिकॉर्ड बनाए रखेंगे 1

और पढ़ें  मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड शहीद स्मारक रामपुर तिराहा, मुजफ्फरनगर में राज्य आंदोलनकारी शहीदों की पुण्य स्मृति पर श्रद्धांजलि दी।

• पर्यटकों / तीर्थयात्रियों की सुविधा और मार्गदर्शन के लिए पर्यटन विभाग के कार्यालय देहरादून में राज्य स्तरीय चार धाम नियंत्रण कक्ष स्थापित है। चार धाम पर्यटन कंट्रोल रूम, देहरादून का दूरभाष न 0135-550898 0135-552627 एवं 0135 552628,,

Leave a Reply

Your email address will not be published.