प्रेम विवाह करने पर की हत्या, मृतक उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी का नेता था।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून/अल्मोड़ा: भिकियासैंण में प्रेम विवाह करने पर ससुराल वालों ने गुरुवार देर शाम अपहरण के बाद उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी (उपपा) नेता की हत्या कर दी। मामले में पुलिस ने हत्यारोपित सास, ससुर व साले को गिरफ्तार कर लिया। वर्ग विशेष से मामला जुड़ा होने के कारण विशेष सतर्कता बरती जा रही है।
अल्मोड़ा जिले के सल्ट के पनुवाधौखन निवासी जगदीश चंद्र पुत्र केश राम और भिकियासैंण निवासी गीता उर्फ गुड्डी ने 21 अगस्त को गैराड़ मंदिर में प्रेम विवाह किया था। शादी से पहले गुड्डी अपने सौतेले पिता जोगा सिंह, भाई गोविंद सिंह व मां भावना के साथ रहती थी। गुड्डी का प्रेम विवाह उसके सौतेले पिता, भाई व मां को रास नहीं आया। गुरुवार को तीनों ने जगदीश का भिकियासैंण से अपहरण कर लिया। उसकी पिटाई के बाद हत्या कर दी। पुलिस ने देर शाम गाड़ी से जगदीश का लहूलुहान शव बरामद कर लिया। उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी ने बताया कि जगदीश चंद्र पार्टी से दो बार विधानसभा चुनाव लड़ चुका था। तहसीलदार निशा रानी ने बताया की पूरे मामले की जांच की जा रही है। सभी आरोपित गिरफ्तार कर लिए गए हैं। विवाद की आशंका के मद्देनजर भिकियासैंण में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।
मृतक जगदीश चंद्र ने 2022 में सल्ट विधानसभा से उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा था। वह प्लंबर का कार्य करता था और क्षेत्र में काफी लोकप्रिय भी था। उसकी छवि को देखते हुए पार्टी ने उसे टिकट दिया था।