एक बेटी का सीएम के नाम भावुक पत्र,पिता को खोजने की लगाई गुहार।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/श्रीनगर: पांच माह पूर्व अनिल नैथानी (हेमती नंदन बहुगुणा यूनिवर्सिटी में हेड क्लर्क) निवासी श्रीनगर ( गढ़वाल) एक प्राइवेट टैक्सी बुक करवा कर त्रिजुगीनारायण घूमने गए थे। जिस दिन उनकी वापसी का होनी थी और वह घर नहीं पहुंचे। उसके कुछ दिन बाद तक भी जब वह नहीं लौटे तो उनकी हर तरफ पूछताछ शुरू कर दी गई, तब मालूम हुआ कि वापसी में उनका चालक के साथ कुछ विवाद हो गया था और चालक ने उनके साथ मारपीट की। चालक के साथ जो सहायक था उसने बयान दिया कि ड्राइवर ने उन्हें गंगा जी में धक्का दे दिया था।

और पढ़ें  सरकार का अलर्ट सायरन: Omicron कोरोना वायरस ज्यादा खतरनाक, कोरोना वैक्सीन के साथ बूस्टर डोज लगाने वाले भी संक्रमित।

उनकी पुत्री समीक्षा नैथानी ने बताया कि पिछले पांच महीनों से हम उनकी तलाश करते-करते थक गए हैं। सदिग्ध और हमारा शहर एक ही होने के कारण हम बहुत असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। हमारी जान खतरे में है। हमने हर जगह हर संभव प्रयास करके देख लिया है लेकिन नतीजा सिफर है।

उ होने कहा कि मुख्यमंत्री को बाबत पत्र लिखकर निवेदन किया है कि वे इस मामले का संज्ञान लें और जल्दी से जल्दी उचित कार्यवाही कर अपराधियों को उनके किए की सजा दिलवायें।साथ ही प्रशासन की लचर व्यवस्था पर उन्होंने आक्रोश जताया कि हम बहुत निराश है। यदि हमे इसी सत्रास में जीना है तो फिर पूरे परिवार का आत्मदाह कर लेना ही अंतिम विकल्प शेष बचता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.