फेक लैटर प्रकरण में दोषी व्यक्ति पर होगी सख्त कार्यवाही:अपर मुख्य सचिव।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून: अपर मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री, राधा रतूङी ने बताया कि संज्ञान में आया है कि किसी व्यक्ति को जेड सिक्योरिटी प्रदान करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को कोई पत्र नहीं भेजा गया है।

अपर मुख्य सचिव राधा रतूङी ने बताया कि सोशल मीडिया में चल रहे इस फेक लैटर को गम्भीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दोषी व्यक्ति पर सख्त कार्यवाही के निर्देश दिये हैं। 

और पढ़ें  भारत के पहले जकात आधारित क्राउडफंडिंग प्लेटफॉर्म ने किये 2 साल पूरे।

गौरतलब है कि पीआईबी की फेक्टचैक द्वारा भी इस पत्र को फेक पाया गया है। 

एस0टी0एफ0 उत्तराखण्ड मे सोशल मीडिया इंटरवेशंन सैल (SMIC) कार्यरत है । जिसका उदेश्य सोशल मीडिया पर किसी भी प्रकार की भ्रामक एंव गलत सूचना प्रसारित होने पर तत्काल प्रभाव से विश्लेषण कर वैधानिक एंव उचित कार्यवाही करना.. इस क्रम मे आज दिनांक 15.06.2022 को सोशल मीडिया इंटरवेशंन सैल (SMIC) को एक पोस्ट प्राप्त हुई। जिसमे मा0 गृह मंत्री जी के लैटर पैड पर एक सशंय पैदा करने वाला पत्र लिखा गया था । इस पत्र की प्रथमदृष्टया जांच के उपरान्त प्रतीत होता है की मा0 गृह मंत्री के पत्र का रुपांतरण कर इस प्रकार से समाज मे कानून व्यवस्था बाधित करने हेतु भ्रामक सूचना प्रसारित की गयी है। इस क्रम मे एस0टी0एफ0 उत्तराखण्ड द्वारा सुसगंत धाराओ मे अभियोग पजींकृत करने की कार्यवाही प्रारम्भ की गयी है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.