ओमिकॉर्न का खतरा राज्य में भी: विदेश से राज्य में आये 490 लोगों की तलाश।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून: राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए कुछ समय शेष है। ऐसे में बड़ी-बड़ी जनसभाएं और रैली हो रही हैं। लेकिन इन सब के बीच एक खबर चिंता बढ़ाने वाली है। एक रिपोर्ट के मुताबिक उत्‍तराखंड में विदेश से आए करीब 490 लोग लापता हैं। डर है कि इनमें से कोई कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन (Omicron Variant) से ग्रसित न हो।

पुलिस और एलआइयू की मदद से इनकी तलाश हो रही है।एक नवंबर से 15 दिसंबर तक उत्तराखंड के करीब 1900 लोग विदेश से दिल्ली हवाई अड्डे (Delhi Airport) पर पहुंचे। हवाई अड्डे पर उन्होंने उत्तराखंड आने की जानकारी दी पर इनमें से 490 लोग अभी तक ट्रैस नहीं हो पाए हैं। इनके फोन नंबर गलत हैं। ज्यादातर लोग अमेरिका (America) से आए हैं, लेकिन अब इनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है। स्वास्थ्य महानिदेशक डा. तृप्ति बहुगुणा के अनुसार इन लोग ने हवाई अड्डे पर फार्म में गलत विवरण भरा था। अब इनके दिए गए पते व मोबाइल नंबर के माध्यम से पता लगाने की कोशिश की जा रही है

और पढ़ें  कोरोना वारियर्स को मिलेगी 11-11 हजार की सम्मान राशि

पुलिस की मदद से प्राथमिकता के आधार पर इनकी तलाश की जा रही है।चिंता यहीं खत्म नहीं होती। ओमिक्रोन के खतरे के बीच राज्य में कोरोना की जांच अब भी सुस्त पड़ी है। कहने के लिए प्रतिदिन बीस हजार सैंपल का लक्ष्य निर्धारित किया गया है पर सैंपलिंग अभी 10-12 हजार तक ही हो पा रही है। इसमें भी ज्यादातर सैंपलिंग मैदानी जिलों में ही की जा रही है। एक समस्या ये भी है कि चुनावी माहौल में कई बड़े नेता उत्तराखंड पहुंच रहे हैं। प्रोटोकाल ड्यूटी के कारण भी सैंपलिंग का काम प्रभावित हो रहा है। वहीं, बार्डर पर भी सैंपलिंग के नाम पर खानापूर्ति की जा रही है। ऐसे में कोरोना की नई लहर की आशंका से डर लग रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.