एबीवीपी रुद्रप्रयाग के कार्यकर्ताओ ने अंकिता भण्डारी के हत्या के मामले में विरोध प्रदर्शन किया।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

संवादसूत्र देहरादून/रुद्रप्रयाग: अंकिता हम शर्मिंदा है, तेरे कातिल जिंदा है!
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद रुद्रप्रयाग की अगस्त्यमुनि इकाई द्वारा आज को महाविद्यालय से देवनगर तक विगत दिनों पूर्व श्रीकोट निवासी स्व. बहन अंकिता भण्डारी के हत्या के मामले में विरोध प्रदर्शन कर एक जुलूस निकाला गया, जिसमें महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने बढ़ चढ़कर भाग लिया,

कार्यकर्ताओ ने कहा कि आज का युवा वर्ग आक्रोशित है क्योंकि उत्तराखण्ड जिसे देवभूमि कहते है, लाखों लोग यह‍ां अपने पापों से मुक्ति हेतु आते है और पुण्य लेकर जाते है, जिसे मोक्षधाम कहें तो अनुचित नहीं होगा, उस देवभूमि में इस प्रकार का कुकृत्य देखने को मिल रहा है, पाप का पहरा बढ़ रहा है, अनाचारी व्याभिचारी आज उत्तराखण्ड की नारी पर हावी हो रही है!

और पढ़ें  भानियावाला में 132 केवी का तार 33 केवी तार के ऊपर गिरने से विद्युत आपूर्ति ठप।

इस प्रकार की क्षीण मानसिकता को सबक सिखाने व उसे आईना दिखाने के लिये ABVP रुद्रप्रयाग के कार्यकर्ताओं द्वारा युवाओं का मनोबल बढ़ाकर उन्हें जागरुक करना है जिससे पुलिस प्रशासन द्वारा हत्यारे का राजनीति बैकग्राउंड होने की वजह से दबाने की कोशिश की जा रही है, जो कि समाज हित के लिये उचित नहीं है! यदि बहन की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं किया जाता है और दोषी को फांसी नहीं मिलती है तो यह सरासर लोकतंत्र की हार होगी, उस उम्मीद की हार होगी जो इस अंधे कानून को न्यायसंगत मानता है! इसी न्याय को न्यायसंगत बनाने के लिये ABVP पिछले सात दशकों से निरंतर संघर्षरत है! जब तक बहन को न्याय नहीं मिल जाता, ABVP का आंदोलन विभिन्न प्रकार में जारी रहेगा!