साइबर क्राइम करने वाले दो ठग गिरफ्तार।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें


संवादसूत्र देहरादून: एसटीएफ ने पटेलनगर थाना क्षेत्रान्तर्गत चल रहे फर्जी अन्तर्राष्ट्रीय काल सेन्टर का खुलासा किया है।  पुलिस उपमहानिरीक्षक अपराध एंव कानून व्यवस्था व एसटीएफ नीलेश भरने ने बताया कि एसटीएफ टीम को पिछले कुछ समय से देहरादून के पटेल नगर क्षेत्रान्तर्गत फर्जी काल सेन्टर के संचालन सम्बन्धी सूचना प्राप्त हो रही थी, जिसमे फर्जी काल सेन्टर में कार्य करने वाले लोगों के द्वारा अमेरिकी नागरिको को उनके कम्प्यूटर, लैपटॉप सिस्टम्स के सर्विस आदि के नाम पर कॉल कर ठगी करने सम्बन्धी कार्य किये जा रहे थे।
 सूचना के आधार पर पुलिस उपाधीक्षक एसटीएफ के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया  व देर रात एसटीएफ के द्वारा पटेलनगर थाना क्षेत्रान्तर्गत गुरु राम राय पीजी कॉलेज के पास एक फ्लैट में फर्जी अन्तराष्ट्रीय काल सेन्टर पर दबिश दी ।  जिसमें मौके पर 02 व्यक्ति मौजूद थे जिनसे पूछताछ की गयी तो उनके द्वारा बताया गया कि वो लोग डेस्कटॉप और लैपटॉप से अमेरिकी नागरिको को विभिन्न सॉफ्टवेयर के माध्यम से फर्जी कस्टमर केयर अधिकारी बनकर उन्हे उनके सिस्टम पर तकनीकी खराबी को ठीक करने का झांसा देकर उनसे इस सर्विस के नाम पर पैसे लेकर ठगी करते है । इस कार्य हेतु उनके द्वारा 02 टोल फ्री नम्बर क्रय किये गये है जो उनके लैपटॉप व कम्प्यूटर पर मौजूद सॉफ्टवेयर से कनेक्टेड है, जब कोई अमेरिकी नागरिक अपने देश मे सिस्टम/डिवाईस के रिपेयर हेतु गूगल पर कस्टमर केयर नम्बर तलाश करेगा तो उसे उनका ही नम्बर मिलेगा, जिस पर उसके द्वारा कॉल करने हम लोग उन्हे सम्बन्धित कम्पनी का कस्टमर केयर अधिकारी बनकर बात करते है, तथा झांसा देकर उनके डिवाइस में Remote access Software install करवाकर उनके सिस्टम में काफी खराबी होना तथा उनके डिवाइस को ठीक करने के नाम पर 100 डालर से 900 डालर प्राप्त करते है । कुछ कस्टमर चैक के माध्यम से भी पेमेन्ट करते है जिसे अमेरिका में निवासरत उनकी सहयोगी Melisaa के खाते मे जमा कराये जाते है जिसे वह अपना कमीशन काटकर हमे दिल्ली स्थित बैंक खाते मे भेज देती है । गिरफ्तार आरोपितों से तीन विभिन्न बैक खातो में लगभग 1 करोड 10 लाख रुपये की धनराशि होनी पायी गयी है जिसके सम्बन्ध में जाँच कर बैंक शाखाओं से पत्राचार कर धनराशि को फ्रीज कराया गया है । साथ ही ई0डी0 सहित अन्य विभिन्न एजेन्सियों से उक्त धनराशि के सम्बन्ध में पत्राचार किया जा रहा है । साथ ही अमेरिका स्थित बैक ROYAL CREDIT UNION & QUIBICAL TECHNICAL SERVICES की संलिप्ता के सम्बन्ध में इण्टरपोल के माध्यम से पत्राचार किया जायेगा । उपरोक्त घटना के सम्बन्ध में थाना पटेलनगर पर धारा 420,120 बी भादवि व 66 डी,75  आईटी  एक्ट का अभियोग पंजीकृत किया गया है । आरोपितों की पहचान वैभव गुप्ता निवासी आईएसबीटी मसूद खान निवासी मूलचंद एनक्लेव के रूप में हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *