ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

निशा गुप्ता

बढ़े मान हिन्दी सदा मन धरें,
सभी काम हिन्दी सकल जग करें।
कहें मातृ भाषा सभी मान हो,
नमन कर रहे देश की जान हो ।

सकल ज्ञान मिलता समर्पित रहो,
रहे भाव हिन्दी सदा मन गहो ।
नहीं द्वेष मन में कभी भी भरो,
रहे संग उर्दू न शिक़वा करो ।।

और पढ़ें  मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ पर पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों को विशिष्ट कार्यों के लिए मुख्यमंत्री सराहनीय सेवा पदक से सम्मानित किया।

पढ़ेंगे वही जो लिखेंगे वही,
ढले वर्ण स्वर संग व्यंजन कही ।
सभी ही कहे बात हिन्दी बढ़ें
चलो अब नए राज खोले गढ़ें ।

इसी में रहे लय जहाँ साथ में ,
रहे थाम उर्दू कभी हाथ में ।
बनी देख बहनें लगे है सगी ,
मिली एक दूजे न छूटे लगी ।

रहे मान हिन्दी सदा देश में ,
कहें बात अपनी इसी वेश में।
नहीं छोड़ इसको विदेशी बनो,
करें मान भाषा कभी मत तनो ।

और पढ़ें  स्वास्थ्य विभाग में हुए नये परिवर्तन।

निशाअतुल्य